आँखों में मिर्ची झोंककर दिया वारदात को अंजाम

अलीराजपुर। शनिवार को जिले के चन्द्रशेखर आजाद नगर एवं आम्बुआ के बीच रास्ते मे दो बाईक पर सवार चार लुटेरों ने चन्द्रशेखर आजाद नगर से आलीराजपुर की ओर आ रहे शराब कंपनी के कर्मचारियों की जीप को रोककर 22 लाख रूपये लुट लिये।

इस पूरी वारदात को लुटेरों ने कर्मचारियों की आँखों में मिर्ची झोंककर अंजाम दिया। लेकिन लुट की वारदात में बड़ी बात यह रही कि अचानक पुलिस के आ जाने से एक बाईक पर सवार दो लुटेरों को मौके पर पकड़ लिया गया। इस संबंध में आलीराजपुर पुलिस अधिक्षक विपुल श्रीवास्तव ने पुष्टि करते हुए बताया कि चन्द्रशेखर आजाद नगर की शराब दुकान को संचालित करने वाली शराब कंपनी के कर्मचारी चंद्रशेखर आजाद नगर से दोपहर में एक जीप में सवार होकर आम्बुआ की ओर रवाना हुए।

रास्ते में दो बाईक पर सवार चार लुटेरों ने मोटर साइकिल सामने लाकर जीप रूकवाई और तुरंत उतरकर जीप में बैठे कर्मचारियों की आँख में मिर्ची झोंककर रूपये से भरा बैग लेकर एक बाईक से भाग निकले। दुसरी बाईक पर सवार दो लुटेरे जब तक फरार हो पाते तब तक अचानक जोबट एसडीओपी का स्टाफ व गनमैन वहां से गुजर रहे थे और घटनाक्रम को देखकर उन्होने एक बाईक पर सवार दो लुटेरों को धरदबोचा। जबकि दो लुटेरे 22 लाख रूपये से भरा बैग लेकर फरार हो गये।

इस वारदात में पकड़े गए लुटेरों के नाम मनीष व लखन है तथा दोनों कुक्षी एवं निसरपुर के रहने वाले है। चारों लुटेरो ने जोबट में किसी रूम में रात बिताई थी तथा पुलिस ने उनके रूम से मोबाइल, नंबर प्लेट, स्कू्र ड्रायवर आदि बरामद किये है। 22 लाख रूपये लुटकर भागे दो आरोपियों की पहचान पुलिस को मिल चुकी है। उनकों पकड़ने के लिये पुलिस छापेमारी कर रही है।

वहीं पुलिस को शंका है कि इस वारदात में कठ्ठीवाड़ा में कुछ महिनों पहलें हुई वारदात की तरह शराब कंपनी का कोई कर्मचारी ही शामिल है। पुलिस ने संबंधित कर्मचारी को हिरासत में ले लिया है।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: