आमने-सामने की मुठभेड़ में पुलिस ने किया मुस्तैदी से मुकाबला, आठ राउंड फायरिंग की 

आमने-सामने की मुठभेड़ में पुलिस ने किया मुस्तैदी से मुकाबला, आठ राउंड फायरिंग की 

Share Post & Pages

बदमाशों के हौसले फिर हुए बुलंद अभी कुछ ही दिन पहले चोर बदमाशों ने एक चौकी प्रभारी को घायल किया था, वहीं दूसरी बार फिर पुलिस पर बदमाशों ने किया हमला । 

धार। अपराधियों का गढ़ माना जाने वाला जामदा भूतिया गांव फिर से चर्चा में है। मंगलवार शाम बैल चोरों को पकड़ने गए पुलिस दल पर जामदा के बदमाशों ने अचानक हमला कर दिया। अचानक हुए हमले का पुलिस बल ने मुस्तैदी से सामना किया। बदमाशों की संख्या अधिक होने के बावजूद पुलिस ने स्थिति पर नियंत्रण पा लिया। पुलिस इस मामले में आरोपियों की जाँच में जुट गई है। 
टांडा थाना क्षेत्र में आने वाले जामदा भूतिया में बैल चोरो की सूचना पाकर पुलिस दल वहां पहुंचा। जब पुलिस दल ने बदमाशों को पकड़ने का प्रयास किया तो बदमाशों ने पलट कर हमला कर दिया। बदमाशों की संख्या पुलिस बल से अधिक थी। सामने की ओर से तीर व पत्थरों से हमला किया गया। हमले की तीव्रता इतनी अधिक थी कि पुलिस दल के साथ गए डॉयल 100 और एक अन्य वाहन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए। इस पर पुलिस ने मुस्तैदी दिखाते हुए आठ राउंड फायर किये। पुलिस को किसी व्यक्ति ने सूचना दी थी। इसके बाद पुलिस दल जामदा भूतिया के लिए रवाना हो गया। ये क्षेत्र इतना कुख्यात हो गया है कि जब भी पुलिस कार्रवाई करने जाती है, यहाँ के बदमाश संगठित होकर हमला कर देते हैं। पिछले माह भी एक चोर गिरोह को पकड़ते समय यहाँ के बदमाशों ने पुलिस पर हमला कर दिया था। इस हमले में एक पुलिस अधिकारी घायल हो गए थे। सूचना मिलने तक क्षेत्र में किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी थी। बताया जा रहा है कि यहाँ के प्राकृतिक वातावरण का फायदा उठाकर बदमाश भाग निकले। गौरतलब है कि इस क्षेत्र में सबसे ज्यादा पशु चोरी करने वाले शरण लेते हैं।
रूपेश द्विवेदी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धार-
    एडिशनल एसपी रूपेश कुमार द्विवेदी ने बताया कि मंगलवार दोपहर करीब 12:00 बजे जामदा भूतिया के पास अंबापूरा गांव में राम सिंह भील ने सूचना दी थी कि कुछ बदमाश बेल और बकरियां चुरा कर ले जा रहे हैं, सूचना पर टांडा थाना प्रभारी मोहम्मद बेग अपने दो एसआई और अन्य चार आरक्षकों के साथ टीम बनाकर अंबापुरा गांव पहुंचे तब तक बदमाश वहां से निकल चुके थे, पुलिस ने उनका पीछा किया जिसके दौरान चोर और ग्रामीणों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी साथ ही तीर चलाए एवं फायरिंग भी करने लगे इन बिगड़े हालातों को देखते हुए पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की जिसमें पुलिस ने भी फायरिंग की, पुलिस टीम वहां से जैसे तैसे बचकर निकलने में कामयाब हुई परंतु डायल 100 और एक अन्य वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया गया घटना में किसी के भी घायल होने की सूचना नहीं है। द्विवेदी ने बताया कि करीब 40 अज्ञात व् नाम दर्ज बदमाशों पर प्रकरण दर्ज किए गए हैं, जल्द ही सख्त कार्रवाई की जाएगी।
Follow Us Social media

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़