एक दूसरे के अधिकारों का सम्मान करें - अपर सत्र न्यायाधीश अतुल खंडेलवाल

एक दूसरे के अधिकारों का सम्मान करें – अपर सत्र न्यायाधीश अतुल खंडेलवाल

समाज में मानवीय संवेदनाओं के प्रति लोगों में जागरूकता उत्पन्न कर एक दूसरे के अधिकारों का सम्मान करें –  अपर सत्र न्यायाधीश अतुल खंडेलवाल

धार-माननीय सरिता सिंह जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण धार के मार्गदर्शन में  व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अधिकारी श्रीमती रेखा द्विवेदी के निर्देशानुसार शुक्रवार को अनिल प्लाजा धार में मुख्य अतिथि अपर सत्र न्यायाधीश/जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव श्री अतुल खंडेलवाल की उपस्थिति में विधिक साक्षरता शिविर आयोजित किया गया कार्यक्रम में आशा सहयोगी कार्यकर्ता मौजूद रही।
अतिथि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव श्री अतुल खंडेलवाल ने अपने उद्बोधन में कहा की शासन द्वारा जनता के हितकारी चलाई जा रही विभिन्न प्रकार की योजनाओं का लाभ समाज के छोटे से छोटे व्यक्तियों तक पहुचना चाहिए। 
न्यायाधीश श्री खंडेलवाल ने आशा सहयोगिनी से बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को कुपोषण से बचाने के अतिरिक्त 5 वर्ष से 14 वर्ष के बच्चों को शिक्षित कराये जाने,व्रद्धजनों की उचित देख रेख और उन्हें सम्मान दिलाये जाने,अपराध पीड़ित प्रतिकार योजना ,आपदा पीड़ित राहत योजना, संबल योजना आदि के लाभ दिलाये जाने पर विस्तृत विचार विमर्श किया ।
उन्होंने कहा की समाज में मानवीय संवेदनाओं के प्रति लोगों में जागरूकता उत्पन्न कर एक दूसरे के अधिकारों का सम्मान करने, समानता और सामंजस्य पूर्ण व्यवहार द्वारा अपराधों एवं अधिकारों के अतिक्रमण पर रोक लगाए तब जाकर समाज में सदभावपूर्ण वातावरण निर्मित किये जाने हेतु जागृति लाये जाने की अपेक्षा की।
पैरालीगल वालेंटियर श्रीमती लेखा शर्मा एवं संजय शर्मा ने अपने उद्बोधन में कहा की हमें लोगो को एक दूसरे मदद करने हेतु प्रोत्साहित करना चाहिए और समाज के किसी भी वर्ग का व्यक्ति धन व ज्ञान के अभाव के कारण कोई भी इंसान कानूनी न्याय प्राप्त करने से वंचित न रहें।यदि ऐसी स्थिति निर्मित होतो आप जिला विधिक सेवा प्राधिकरण धार कार्यालय से संपर्क कर सकते है।
इस अवसर पर ट्रेनर श्री श्याम राठौर , पैरालीगल पूजा सनवरे सहित अनेक आशा कार्यकर्ता उपस्थित थे।
Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: