एम्बुलेंस समय से नहीं पहुंची, महिला ने सड़क पर दिया बच्चे को जन्म

एम्बुलेंस समय से नहीं पहुंची, महिला ने सड़क पर दिया बच्चे को जन्म

बुरहानपुर। स्वास्थ्य विभाग की लापरवाहीयों के किस्से अक्सर सुनने में आते हैं जहां पर स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी और उदासीनता के चलते कई बार मरीजों को गंभीर परेशानियों का सामना करना पड़ता है। हाल ही में एक ताजा मामला मध्यप्रदेश के बुरहानपुर में हुआ जहाँ एक महिला को सड़क के किनारे ही बच्चे को जन्म देना पड़ा है। ये घटना दूर देहात के किसी गांव की नहीं बल्कि बुरहानपुर शहर की है। शुक्रवार को कमला नामक महिला को प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। ऐसे में महिला के परिजनों ने तुरंत सरकारी एम्बुलेंस सेवा जननी एक्सप्रेस से संपर्क किया और गर्भवती कमला को अस्पताल ले जाने की गुहार लगाई। काफी इंतजार करने के बाद भी सरकारी एम्बुलेंस नहीं पहुंची। ऐसे में कमला के पति के पास केवल एक ही विकल्प था। उसने कमला को अपनी मोटरसाइकिल पर ही बैठाकर अस्पताल ले जाने का फैसला किया, लेकिन ऊबड-खाबड़ रास्ते से मोटरसाइकिल का सफर गर्भवती कमला से बर्दाश्त नहीं हुआ और रास्ते में ही प्रसव पीड़ा चरम पर पहुंच गई। आखिरकार कमला को अस्पताल के रास्ते में ही सड़क के किनारे बच्चे को जन्म देना पड़ा।

कमला और उसके नवजात शिशु को उसके परिजन जैसे तैसे नजदीक के शाहपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र तक ले गए। जहां डॉक्टर ने कमला और उसके नवजात शिशु की जांच परिक्षण किया और बताया कि जच्चा और बच्चा दोनों ही पूरी तरह से स्वस्थ है। 

सरकारी तंत्र की पोल खोल ही देती हैं ऐसी घटनाये 

एम्बुलेंस ना मिलने के कारण गर्भवती महिला के अस्पताल न पहुंच पाने का ये कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी प्रदेश के कई हिस्सों से इस तरह की घटनायें होती आ रही है। जननी एक्सप्रेस व अन्य सरकारी एम्बुलेंस की सेवा में सुधार का दावा भले ही किया जाता हो, लेकिन इस प्रकार की घटनाएं सरकारी तंत्र की पोल खोल ही देती हैं

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: