कलेक्ट्रेट स्थित कॉलोनी से फिर पकड़ाए जुआरी

धार। जिला पुलिस अधिक्षक वीरेंद्र कुमार सिंह के सख्त निर्देशों के चलते आज फिर क्राइम ब्रांच ने धार जिला मुख्यालय पर स्थित कॉलोनी जो कि जिला कोर्ट एवं जिले के समस्त अधिकारीक कार्यालयों के पास स्थित कॉलोनी के अंदर एक व्यक्ति जो अपने ही घर पर जुआ टेबल चलाता था। जिसका नाम मयंक है, उसके घर पर क्राइम ब्रांच ने मुखबिर की सूचना पर छापामार कार्यवाही की गई, तब वहां से मयंक उर्फ गोलू पिता अशोक जाति अग्रवाल उम्र 29 साल एवं मनोज पिता महेश सिसोदिया जाति दर्जी उम्र 30 साल दोनों ही निवासी चाणक्यपुरी के हैं। जिन्हें 8 सौ 45 रूपये नगदी के साथ गिरफ्तार किया गया। कार्रवाई हेतु नगदी सहित दोनों जुआरियों को नौगांव पुलिस को सौंपा गया। 

    धार शहर में प्रतिदिन जुआरियों को पकड़ने की कार्यवाही क्राइम ब्रांच के माध्यम से की जा रही है, परंतु सबसे बड़ी बात यह है कि जिला पुलिस अधीक्षक के सख्त निर्देशों के बाद भी जिले में जुआरियों में ख़ौफ़ नहीं है। साथ ही प्रत्येक थाना प्रभारी को यह निर्देश दिए गए थे कि उनके थाना क्षेत्र में अगर कोई जुआरी या सट्टा संचालन करते हुए पाए गए तो उन पर कार्रवाई के साथ-साथ थानेदार को भी निलंबित किया जाएगा परंतु धार शहर में दो थानेदार दो अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक एवं एक नगर  पुलिस अधिक्षक होने के बावजूद भी शहर के मध्य सटोरियों का हौसला बुलंद है। जो इतनी कड़ी कार्रवाई के बावजूद भी बेखौफ होकर सट्टा और जुए का कारोबार चला रहे हैं। क्या पुलिस विभाग इन पर अपना ख़ौफ़ जमा पाएगा।

जबकि मुख्यमंत्री के सख्त निर्देश हैं, की यह कार्रवाई निरंतर जारी रहे, एवं ऐसे लोगों पर सख्त कार्यवाही की जाये। 

क्या कहते हैं जिम्मेदार–

इस संबंध में पुलिस अधीक्षक विरेंद्र कुमार सिंह से बात की तो उन्होंने बताया कि जहां पर से भी सूचना प्राप्त होती है, वहां पर क्राइम ब्रांच एवं पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा छापामार कार्यवाही कर अपराधियों को पकड़ कर कार्यवाही की जा कर उन्हें माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया जाता है। 

निलंबन के मामले में क्या बोले पुलिस अधीक्षक–

जब निलंबित करने को लेकर सवाल पूछा गया तो पुलिस अधीक्षक महोदय ने बताया कि हमने निलंबित करने के आदेश जरूर दिए हैं, उनमें अगर वहां के थानेदार या थाने से संबंधित कर्मचारी सटोरियों या जुवारियों के साथ संलिप्त पाया जाता है, या उनसे उनके संबंध पाए जाते हैं। ऐसी दशा में उन पर निलंबन की कार्रवाई की जाएगी। 

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: