किसी भी जिले में अवैध रेत उत्खनन पाया गया तो कलेक्टर सस्पेंड

मुख्यमंत्री कमलनाथ का नायक अंदाज़ अवैध रेत उत्खनन मिला तो कलेक्टर हटाया जाएगा

भोपाल। प्रदेशभर में रेत माफियाओं के सक्रिय होने वह हौसले बुलंद होने की वजह से रेत का अवैध कारोबार फलने फूलने लगा है। जिससे सरकार को राजस्व के साथ आम लोगों को भी इससे बड़ा ही नुकसान होता है, यह रेत के कारोबारी अवैध रूप से कार्य करते हैं जिसके चलते यह अपने वाहनों को रात में मार्गों पर अंध गति से दौड़ाते हैं जिसके चलते कई दुर्घटनाएं हो चुकी हैं, इसी कारण मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बड़ा कदम उठाया है। 

खेर नहीं अब रेत माफियाओं की

मध्यप्रदेश में अवैध रेत उत्खनन मामले में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बड़ा बयान दिया है। विधायक दल की बैठक में यह मुद्दा उठने के बाद कमलनाथ ने खनिज मंत्री प्रदीप जायसवाल से कहा कि वो इस मामले में सख्त कार्रवाई करें।सीएम कमलनाथ ने कहा कि अवैध रेत उत्खनन रोकने लिए सख्त कदम उठाएं और सीधे कलेक्टरों से जवाब तलब करें। सीएम ने यह भी कहा कि जिस जिले में अवैध रेत उत्खनन बंद नहीं होगा, वहां का कलेक्टर हटा दिया जाएगा। बता दें कि सत्ता परिवर्तन के बावजूद प्रदेश भर में अवैध रेत उत्खनन पूर्व की तरह ही जारी है। रात के अंधेरों में मौत बनकर भागते डंपर कई लोगों की जान ले चुके हैं। कांग्रेस ने इसे चुनाव मुद्दा बनाया था।

 

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: