खेतों में लगी आग जानलेवा बनी

इटारसी। इटारसी, होशंगाबाद जिले के कई गांवों में देर शाम आग लग गई। आग नरवाई में लगी थी। देखते ही देखते ये आग कई गांवों में फैल गई। इस आग में जलने अब तक तीन लोगों की मौत होने की खबर है। आज सुबह धोंखेड़ा के पास खेत में जला तीसरा शव मिला है। जिसका नाम गुरु साहब बताया जा रहा है। आग कितनी भयानक थी कि इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि होशंगाबाद, सिवनी-मालवा, इटारसी, आर्डेनेंस फैक्ट्री से फायर टैंडर बुलाने पड़ गए। रात भर एसपी, कलेक्टर और कमिश्नर मौके पर तैनात रहे और राहत-बचाव का काम जारी रहा।

फिलहाल आग पर काबू पाने की जानकारी सामने आ रही है। आग की वजह से तीन हजार एकड़ से अधिक फसल जलने की आशंका है। रात पौने बारह बजे तक पूरे जिले की दमकलें आग को काबू करने में जुटी हुई थीं। आग का तांडव देखते हुए घायलों की संख्या बढ़ने की आशंका है। पूरा प्रशासन हाई अलर्ट पर है। शहर के मंगलमय विलास निवासी लोगों ने बताया कि शाम करीब 7 बजे अचानक धूल भरी आंधी के बीच अचानक खेतों में नरवाई में आग लग गई। देखते ही देखते आग से पूरा इलाका घिर गया।

तेज हवा आंधी से रहवासी क्षेत्र की ओर पहुंची आग

आग इतनी तेजी से फैली कि कुलामड़ी गांव समेत शहर के मंगलमय विलास, खोजनपुर व नवीन जेल वाला एरिया पूरी तरह आग की लपटों से घिर गया था। आग की लपटें इटारसी रोड समेत पूरे शहर में दिख रहीं थीं। धीरे-धीरे आग इटारसी तक पहुंच गई। ग्राम पांजरा, चीलाचोंद, कढ़ैया, धौखेड़ा, निटाया, निमसाड़िया, डोंगरवाड़ा गांव में आग ने गेहूं की फसल को भी चपेट में ले लिया। तेज धुएं और आग की रोशनी से इटारसी का सीमावर्ती रहवासी इलाका सुर्ख नजर आ रहा था।

नेशनल हाईवे किनारे बसे कई गांव और दोनों शहरों के सीमावर्ती रहवासी इलाके आग से घिरने के कारण लोग दहशत में रहे। आग से बचने के लिए लोग घरों से निकलकर रोड पर इकठ्ठे हो गए। सूचना मिलने पर नपा और सिक्योरिटी पेपर मिल की दमकलें पहुंची। दमकलों, टैंकरों और निजी नलकूपों से आग पर काबू पाने के प्रयास जारी थे। जिला प्रशासन ने पूरे जिले की 21 दमकलों, एंबुलेंस आदि को मौके पर बुला लिया था।

इस दौरान रैलसपुर निवासी विवेक सिंह तोमर (24) आग की चपेट में आकर झुलस गया। उसे अस्पताल पहुंचाया। लुहारिया गांव के पास हाईवे पर दोनों तरफ से आग की लपटों में कई वाहन घिरे हुए थे। कुछ बाइक सवार और ट्रक चालकों के झुलसने की भी सूचना है। ग्राम पांजरा में कमिश्नर और कलेक्टर भी बचाव कार्य के दौरान मौजूद थे। वहीं होशंगाबाद विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा सहित पुलिस और अन्य लोगों ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: