गर्मीयों में लू से बचाव तथा इनके प्राथमिक उपचार

गर्मीयों में लू से बचाव तथा इनके प्राथमिक उपचार

धार। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले की आम जनता को गर्मी में लू से बचाव और इनके प्राथमिक उपचार के लिए आवश्य सलाह दी गई है।सीधी धूप से बचे। घर के अंदर हवादार, ठंडे स्थान पर रहे। पंखे का उपयोग करे, किन्तु अधिक तापमान होने पर ठंडे पानी से नहाये तथा कूलर या एयरकंडिशन का प्रयोग करे। हल्के रंग के ढीले व पतले वस्त्रो का प्रयोग करे। धूप मे जाने से पहले सिर को छाते, कपडे अथवा टोपी से ढके। जूते- चप्पल तथा नजर के काले चश्मे का प्रयोग करे।

भोजन करके एवं पानी पीकर ही बाहर निकले। पानी का अधिक मात्रा मे सेवन करे तथा प्यास लगने का इंतजार न करे। अधिक से अधिक पेय पदार्थ (नान अल्कोहाॅलिक) जैसे निबू पानी, लस्सी, छाछ, जलजीरा, आम पना, दही, नारियल पानी आदि का सेवन करे। फल तथा सब्जी जिनमें पानी की मात्रा अधिक होती है (तरबूज, खरबूज, खीरा, अनानास, संतरा, अंगूर आदि) का अधिक मात्रा मे सेवन करे।

शिशूओ तथा बच्चो एवं  60 वर्ष से अधिक आयु के महिला-पुरूषों, घर के बाहार काम करने वाले, मानसिक रोगियों तथा उच्च रक्तचाप वाले मरीजों का विशेष ध्यान रखें। बंद गाडी के अंदर का तापमान बाहर से अधिक होता है इसलिए कभी भी किसी को बंद, पार्किंग मे रखी गाडी में अकेला ना छोडे। यदि बाहर कार्य करना अति आवश्यक हो तो- बाहरी गतिविधिया सुबह व शाम के समय मे ही करे। अत्याधिक शारीरिक श्रम वाली गतिविधियाॅ दिन के अधिकतम तापमान वाले घंटो मे न करे। बहुत अधिक भीड, गर्म घुटन भरे कमरों, रेल, बस आदि की यात्रा गर्मी के मौसम मे अत्यावश्यक होने पर ही करे।

यदि कोई व्यक्ति लू तापघात से प्रभावित होता है, तो उसका तत्काल निचे दिये गये तरीके से उपचार करे । रोगी को तत्काल छायादार जगह पर कपडे ढीले कर लेटा दे एवं हवा करे। रोगी को होश मे आने पर, आने की दशा मे उसे ठण्डे पेय पदार्थ जीवन रक्षक घोल, कच्चा आम का पना आदि दे। प्याज का रस एवं जौ के आटे को भी ताप नियंत्रण हेतु मला जा सकता है। रोगी के शरीर का ताप कम करने के लिये यदि संभव होतो उसे ठण्डे पानी से स्नान कराये या उसके शरीर पर ठण्डे पानी की पट्टीयाॅ रखकर पूरे शरीर को ढॅक दे। इस प्रक्रिया को तब तक दोहराए जब तक की शरीर का ताप कम नही हो जाता है। उपरोक्त उपचार से यदि मरीज ठीक नही होता है, तो उसे तत्काल निकट की चिकित्सा संस्था मे रेफर किया जावें।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: