चुनरी यात्रा की राशि जरूरतमंद बच्चों को देकर मिसाल कायम की

चुनरी यात्रा की राशि जरूरतमंद बच्चों को देकर मिसाल कायम की

इन्दौर। नवरात्रि का माहौल चरम पर है। इस समय शहर के हर क्षेत्र में मां की आराधना चल रही है। इन सबके बीच एक संस्था ऐसी है जिसने इस वर्ष अपना आयोजन एक नेक कार्य के लिए टाल दिया। संस्था ब्रह्म गौरव हर वर्ष चुनरी यात्रा का आयोजन करती आई है लेकिन इस वर्ष संस्था ने कार्यक्रम स्थगित कर शहर के दो बच्चों के लिए अच्छी-खासी राशि की सहायता की है।

         रविवार शाम संस्था ब्रह्म गौरव के सदस्य पश्चिमी क्षेत्र स्थित अन्नपूर्णा मंदिर पहुंचे। यहां संस्था के संयोजक तुषार जमींदार ने अन्नपूर्णा आश्रम के महामंडलेश्वर विशेश्वरानंद जी गिरी के हाथों बच्चों के पिता श्रीधर जोशी को चेक प्रदान करवाया। इस अवसर पर विशेश्वरानंद जी ने तुषार जमींदार व संस्था के अन्य सदस्यों को आशीर्वाद प्रदान किया। इससे पहले उन्होंने संस्था के सदस्यों के साथ माता अन्नपूर्णा को चुनरी अर्पित की। इस मौके पर जय प्रकाश नाईक, डॉ.प्रतिभा जोशी, अनुराग दुबे, वी.डी.जोशी, आशुतोष जोशी, मुकेश शर्मा, जितेंद्र जोशी, हंसा पंडित, सीमा जोशी,अजित दुबे, शुभम दुबे, संजय जोशी उपस्थित रहे।

       संस्था के अन्य सदस्यों से विचार-विमर्श के बाद हमने निर्णय लिया कि इस वर्ष चुनरी यात्रा नहीं निकालेंगे। इस पर खर्च होने वाली राशि जरूरतमंद बच्चों को देंगे। मेरे विचार में समाज सेवा ही मां की सच्ची आराधना होगी।
तुषार जमींदार (संयोजक संस्था ब्रह्म गौरव)

पिता नहीं उठा सकते थे पढ़ाई का खर्च

      बंगाली चौराहा क्षेत्र में रहने वाले श्रीधर जोशी एक गंभीर दुर्घटना में घायल हो गए थे। दुर्घटना के बाद अशक्त हुए तो काम नहीं रहा। घर चलाने की जिम्मेदारी के साथ दोनों बच्चों की पढ़ाई की चिंता सता रही थी। उनका बेटा हिमांशु जोशी सेंटपॉल कॉलेज में बी.कॉम कर रहे हैं और बेटी काजल एम कॉम फाइनल में हैं। संस्था ब्रह्म गौरव ने चुनरी यात्रा की समस्त राशि इन दोनों बच्चों की पढ़ाई के लिए समर्पित कर दी।

 

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: