दस दिन में किसानों के कर्ज माफ़ करेंगे, ग्यारहवां दिन नहीं होने देंगे

दस दिन में किसानों के कर्ज माफ़ करेंगे, ग्यारहवां दिन नहीं होने देंगे

धार में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने मोदी सरकार पर किये हमले

धार। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी ने मंगलवार को धार में केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोला। पीजी कॉलेज में जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल ने मध्यप्रदेश के नागरिकों से वादा किया कि यदि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी तो दस दिन में प्रदेश के किसानों का कर्ज माफ़ करेंगे। उन्होंने विश्वास दिलाते हुए कहा कि इस घोषणा के लिए ग्यारहवां दिन नहीं होने देंगे। राहुल मंगलवार को कांग्रेस की संकल्प यात्रा में शामिल होने के लिए धार पहुंचे थे।

राहुल ने अपनी चिर परिचित शैली में मोदी सरकार को घेरा। उन्होंने राफेल डील और सीबीआई में मचे घमासान को लेकर मोदी पर हमला बोला। उन्होने कहा कि सीबीआई के निदेशक राफेल मामले की जांच करने वाले थे। इसलिए देश के चौकीदार ने रात दो बजे उनको हटा दिया। उन्होंने कहा देश का चौकीदार राफेल डील की जाँच से डरता है। राहुल ने कहा अनिल अम्बानी, मेहुल चौकसी और विजय माल्या के करोड़ों के कर्ज माफ़ कर दिए जाते हैं लेकिन किसानों का कर्ज माफ़ नहीं होता। राहुल गाँधी को सुनने के लिए धार व आसपास के क्षेत्र से लगभग पंद्रह हज़ार लोग पहुंचे। राहुल ने कहा हम आपको मन की बात नहीं सुनाएंगे। हम आपके आएंगे, आपसे आपके मन की बात पूछेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में आई तो मध्यप्रदेश में जमीन अधिग्रहण कानून, ट्राइबल बिल को लागू करेंगे।

किसानों के लिए बनाएंगे फ़ूड प्रोसेसिंग प्लांट

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनता को गुमराह कर रहे हैं। लोकसभा चुनाव से पहले मोदी ने वादा किया था कि अच्छे दिन आएंगे, लेकिन जनता अब परेशान हैं। सीबीआई के डायरेक्टर कहते हैं कि विमान खरीदने में भ्रष्टाचार हुआ है। उन्होंने कहा कि पीएम केवल उद्योगपतियों के लिए सोचते हैं। गरीबों का पैसा उन्होंने अमीरों को सौप दिया है। उन्होंने कहा कि अमीरों का नहीं गरीबों का कर्जा माफ होना चाहिए। प्रधानमंत्री ने युवाओं, किसान और मजदूर के लिए कुछ नहीं किया। राहुल ने किसानों से वादा किया कि सत्ता में आने पर जिले के किसानों के लिए फ़ूड प्रोसेसिंग प्लांट शुरू किये जाएंगे।

पीने के पानी को तरसे सभा सुनने आए लोग

सभा स्थल पर राहुल गाँधी पुरे दो घंटे विलम्ब से पहुंचे। उन्हें सुनने आए लोग चिलचिलाती धूप में परेशान होते रहे। अव्यवस्था इस कदर थी कि आम नागरिकों से लेकर कवरेज करने पहुंचे पत्रकारों को पानी तक नसीब नहीं हुआ। प्रवेश स्थल पर एंट्री करने को लेकर भी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं से पुलिस की झड़प होती रही। स्थानीय आयोजकों और राहुल गाँधी के साथ आ रहे नेताओं में कोई सामंजस्य नहीं दिखाई दिया। जब सारे लोग राहुल को सुनने के पहुंच गए थे, तब तक राहुल इन्दौर से रवाना भी नहीं हुए थे। राहुल गाँधी के साथ मंच पर ज्योतिरादित्य सिंधिया, कमलनाथ, कांतिलाल भूरिया, जीतू पटवारी, गजेंद्र सिंह राजूखेड़ी,  विधायक हनी बघेल और अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: