दीक्षांत समारोह में मानद उपाधि से होंगे सम्मानित

दीक्षांत समारोह में मानद उपाधि से होंगे सम्मानित

इंदौर। किसी शख्स को उसके उत्कृष्ट कार्य या समाज में बेहतरीन योगदान देने के लिए ऑनरेरी डिग्री (मानद उपाधि) दी जाती है। यह एक तरह से अकादमिक सम्मान है। मानद उपाधि देने की शुरुआत पंद्रहवीं शताब्दी में ऑक्सफोर्ड यूनवर्सिटी से हुईथी।

उस जमाने में यह उपाधि या तो डोनर्स को दी जाती थी, या जिनकाे यह समझा जाता था कि यूनिवर्सिटी के बाहर उन्होंने उत्कृष्ट काम किया है, उनको दी जाती थी। जैसे-जैसे दौर आगे बढ़ता रहा, इस उपाधि का मान भी खूब बढ़ता रहा, क्योंकि बहुत ही कम लोगों को यह उपाधि दी जाती थी।
दो तरह की मानद डिग्री होती है?
एक वह, जो उन लोगों को दी जाती है, जिनके पास पहले से डिग्री या कोई बड़ा सम्मान मौजूद हो। मसलन, कोई नोबेल विजेता है, अगर उसे कोई विश्वविद्यालय मानद डिग्री देता है, तो यह उस विश्वविद्यालय के लिए अपने सम्मान की बात है।
यानी किसी अन्य जगह से शिक्षित और पहले से ही सम्मानित व्यक्ति को मानद डिग्री देकर कोई भी विवि अपना सम्मान बढ़ाता है, जिससे वहां पढ़नेवाले बच्चों को प्रेरणा मिले और उनमें बेहतर करने का जज्बा कायम हो सके. लेकिन, किसी भी मानद डिग्री, डॉक्टरेट या डी-लिट को अकादमिक तौर पर पढ़ाई करके हासिल की गयी डिग्री, डॉक्टरेट, डी-लिट या मास्टर्स डिग्री के बराबर नहीं मानी जाती है।
ऑनरेरी डिग्री पानेवाले लोग अपने नॉम के आगे ‘डॉक्टर’ नहीं लगा सकते. या अगर लगाते हैं, तो उसके आगे ‘ऑनरेरी’ जरूर लिखते हैं।
दूसरी तरह की मानद डिग्री उन लोगों के लिए होती है, जिन्होंने समाज के लिए बहुत बड़े काम किये हों और क्वाॅलिफिकेशन के तौर पर वे डॉक्टरेट न हों।

इसी के चलते देवी अहिल्या विश्वविद्यालय द्वारा भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को सम्मान के तौर पर मानद उपाधि देने का विचार किया जा रहा है। अगली कार्यपरिषद बैठक में विश्वविद्यालय प्रशासन यह प्रस्ताव रखेगा। इसके लिए कुलपति ने सहमति जता दी है। विश्वविद्यालय ने इसकी तैयारियां भी शुरू कर दी हैं।

कुलपति डॉ.नरेंद्र धाकड़ ने तत्काल मानद उपाधि देने का प्रस्ताव तैयार करने के अधिकारियों को निर्देश दिए। कार्यपरिषद सदस्य अलोक डावर ने भी उपाधि को लेकर मौखिक सहमति दी है।

कुलपति का कहना है कि कार्यपरिषद में प्रस्ताव रखकर सदस्यों की मंजूरी लेंगे। फिर दीक्षांत समारोह में उपाधि से सम्मानित किया जाएगा। यह पूरे शहर के लिए गौरव की बात होगी। वैसेे भी सैनिकों के लिए देशवासियों के मन में भरपूर सम्मान है।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: