पिस्टल लेकर युवती के घर में घुसे कांग्रेस नेता, प्रेम प्रसंग का मामला

पिस्टल लेकर युवती के घर में घुसे कांग्रेस नेता, प्रेम प्रसंग का मामला

इंदौर। आपराधिक प्रवृति का कांग्रेस नेता छात्रसंघ संगठन से जुड़े साथी के साथ एक युवती के घर में घुस गया और जमकर उत्पात मचाया। घर में पिस्टल लहराई और युवती के पिता की कनपटी पर अड़ा दी। गोली मारने की धमकी देकर भाई व पिता के सामने ही युवती से अश्लील हरकत करता रहा। उसके साथ मारपीट की और अगवा करने का प्रयास भी किया। पुलिस ने दोनों आरोपितों के विरुद्ध कई धाराओं में केस दर्ज किया है।

तेजाजी नगर टीआई नीरज मेढा के मुताबिक, घटना शनिवार शाम करीब 6 बजे लिंबोदी स्थित शिवधाम कॉलोनी की है। पुलिस ने 22 वर्षीय युवती की शिकायत पर स्वर्ण सिंह उर्फ सोंटा और अनमोल संधू के विरुद्ध केस दर्ज किया। सोंटा कांग्रेस महामंत्री है और पार्षद का चुनाव भी लड़ चुका है। उसके विरुद्ध हत्या, मारपीट, सूदखोरी के कई केस दर्ज हैं। जबकि अनमोल कांग्रेस के छात्र संगठन से जुड़ा हुआ है। पिछले वर्ष पुलिस ने उसे रासुका के तहत गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

पूर्व में पीड़िता आरोपित के कारखाने में मैनेजर थी

पीड़ित युवती आरोपित सोंटा के नमकीन कारखाने में मैनेजर थी। इस दौरान सोंटा ने गहरी दोस्ती बना ली और उसके घर आने-जाने लगा। कारखाने में घाटा होने के कारण सोंटा ने युवती को तनख्वाह देनी बंद कर दी। इस पर युवती ने पांच महीने पहले काम बंद कर दिया। इससे सोंटा बौखला गया और उस पर दबाव बनाने लगा। वह फोन पर धमकाता और पीछा करता था। रास्ते में रोकता और बोलता कि दोस्तों के इतने करीब आकर बात मत किया कर। युवती ने समझाने का प्रयास किया तो कहा तू दूसरी जगह काम नहीं करेगी और दूसरों से बात भी बंद कर दे। तू सिर्फ मेरी बनकर रहेगी। युवती ने कहा मैं तुम्हारी बहन जैसी हूं। मेरी बड़ी बहन तो तुम्हें राखी बांधती है।

फोन पर बात कर वरना गोली मार दूंगा 

शनिवार शाम को सोंटा युवती के घर पहुंच गया और पिस्टल निकालकर सामने रख दी। उसने कहा मेरा फोन क्यों नहीं उठाया। मैं दिनभर से बात करने के लिए इंतजार कर रहा हूं। मेरी बात नहीं मानी तो तेरे पिता व भाई को गोली मार दूंगा। युवती के पिता ने सोंटा की पत्नी सिमरन को कॉल किया और पूरी घटना बताई। इस पर वह गुस्से में रात करीब 9 बजे साथी अनमोल के साथ आया और जबरन घर में घुस गया। अनमोल ने युवती के पिता की गर्दन दबा ली। कनपटी पर पिस्टल अड़ाई और कहा सोंटा भाई की बात मान ले, वरना तेरे पिता को ढेर कर दूंगा। तेरे भाई को भी गोली मारकर खत्म कर देता हूं। सोंटा ने युवती को पक़ड़ लिया और अश्लील हरकत करने लगा। चांटे मारे और घसीटते हुए ले जाने का प्रयास किया। पीड़ितों के शौर मचाने पर सोंटा और अनमोल सफेद रंग की कार में बैठकर फरार हो गए।

थाने से गायब हो गई गुंडा फाइल, दो ही केस मिले

सोंटा के खिलाफ कई थानों में केस दर्ज हैं। तत्कालीन टीआई पीएस राणावत ने उसकी गुंडा फाइल भी तैयार कर ली थी। शनिवार को मारपीट की घटना सामने आने के बाद भंवरकुआं टीआई संजय शुक्ला ने रिकॉर्ड खंगाला तो दो ही प्रकरण निकले। सूत्रों के मुताबिक, सोंटा ने पार्षद का चुनाव लड़ने के दौरान कुछ पुलिसकर्मियों से सांठगांठ कर गुंडा फाइल गायब करवा दी थी। अफसरों ने रविवार को सभी थानों को वायरलेस से प्रसारण कर सूचना करवाई और रिकॉर्ड की जानकारी मांगी। इस मामले में सोंटा का पक्ष जानने का प्रयास किया गया, लेकिन फोन बंद मिला।

ढाबे पर पुलिसवालों के साथ भी शराब पार्टी करता है

युवती को धमकाने की घटना के बाद पुलिस ने सोंटा की तलाश में कई जगह छापे मारे। सूचना मिली कि वह चाचाजी ढाबे पर बैठकर पुलिसवालों के साथ शराब पार्टी करता था। वहां अनमोल संधू, नीलेश उपाध्याय सहित कई बदमाश भी जमा होते थे।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: