प्रदर्शन कर रहे लोगों पर की फायरिंग, ( बलवा रिहर्सल )

भोपाल। अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस ने आँशु गैस के गोले फेंककर लाठी चार्ज कर दिया। इसके बाद प्रदर्शनकारी नहीं माने तो पुलिस ने मजिस्ट्रेट के आदेश पर फायरिंग कर दी। इसमें एक प्रदर्शनकारी को गोली लगी जिससे गंभीर गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे पुलिस ने तुरंत एम्बुलेंस से अस्पताल पहुंचाया।

     यह नजारा शुक्रवार सुबह नेहरू नगर पुलिस लाइन में डीआईजी के वार्षिक परेड निरीक्षण के मौके पर बलवे की मॉक ड्रिल का था। जिले में तैनात पुलिसकर्मियों ने डीआईजी के सामने वेतनमान, जीपीएफ और स्थानांतरण के संबंध में अपनी समस्याएं रखीं।

     नेहरू नगर पुलिस लाइन स्थित ग्राउंड में शुक्रवार सुबह डीआईजी धर्मेंद्र चौधरी ने सबसे पहले परेड की सलामी ली। परेड कमांडर के तौर पर आरआई विजय दुबे के नेतृत्व में उनके टूआईसी सूबेदार रवि परिहार ने डीआईजी को सलामी दी। इसके बाद डीआईजी ने परेड का निरीक्षण किया। डीआईजी ने अच्छी वर्दी पहने अधिकारी/कर्मचारियों को पुरस्कृत किया गया। इसके बाद करीब छह सौ से ज्यादा पुलिसकर्मी बलवा मॉक ड्रिल में शामिल हुए। इसमें कुछ पुलिस कर्मचारी प्रदर्शनकारी बने। इसमें पुलिस अधिकारी मजिस्ट्रेट बने और आमने-सामने परेड की रिहर्सल कराई गईइस दौरान पुलिस ने टियर गैस, वाटर कैनन, लाठी चार्ज और फयरिंग की रिहर्सल की।

डीआईजी को सुनाई समस्याएं पुलिस कर्मचारियों ने अपने वेतनमान, जीपीएफ एवं अन्य शाखाओं में अटैचमेंट समाप्त किए जाने के संबंध में आवेदन दिए। वहीं कुछ कर्मचारी ने स्थानांतरण और पूर्व में मिलीं सजाओं की अपील के संबंध में भी डीआईजी से गुहार लगाई। सभी पुलिसकर्मियों की समस्याओ के तत्काल निराकरण के संबंध में डीआईजी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: