प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था से युवा मोर्चा में आक्रोश

प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था के खिलाफ युवा मोर्चा ने निकाला आक्रोश मार्च, सौंपा ज्ञापन

धार। प्रदेश में लगातार बढ़ रही हत्या, लूट और अपहरण की घटनाओं के विरोध एवं बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर भारतीय जनता युवा मोर्चा ने आज 25 फरवरी को आक्रोश मार्च निकालकर विरोध प्रदर्शन किया। सभी युवा मोर्चा के पदाधिकारी पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचें और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रूपेश द्विवेदी को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन का वाचन युवा मोर्चा नगर अध्यक्ष देवेंद्र रावल ने किया। ज्ञापन में कहा कि मध्यप्रदेश में जबसे कांग्रेस की सरकार बनी है। लूट, हत्या और अपहरण की घटनाओं में इजाफा हुआ है। सतना में दिन दहाड़े 2 स्कूली बच्चों श्रेयांश और प्रियांश का अपहरण हो जाता है और घटना के 12 दिन बीत जाने के बाद उन मासूमों की लाश मिलती है जो कि कांग्रेस सरकार की बिगड़ती कानून व्यवस्था को दर्शाता है।

उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं से मध्यप्रदेश में भय का माहौल है। प्रदेश की कमलनाथ सरकार बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए पूर्ण रूप से दोषी है, एक ही परिवार के चिरागों का मध्य प्रदेश जैसे राज्य जिसे शांति का टापू को कहा जाता है। उसमें अपहरण कर हत्या कर देना प्रशासनिक अक्षमता को दर्शाता है।

इस ज्ञापन अवसर पर भाजपा संभागीय सह मीडिया प्रभारी ज्ञानेंद्र त्रिपाठी, भाजपा नगर अध्यक्ष अनिल जैन बाबा, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष सन्नी रीन, नपा उपाध्यक्ष कालीचरण सोनवानिया, नपा नेता प्रतिपक्ष अजय फकीरा, अजा मोर्चा जिलाध्यक्ष सरदार मेडा, मोहन पटेल, मांगीलाल वसुनिया, सोनिया राठौर, पार्षद विपिन राठौर, हुकुम लश्करी, राजेश सिसोदिया, शिव पटेल, विजय गवली, हीरा मौर्य, भय्यू राम, जयराज देवड़ा, बालकृष्ण चावड़ा, रजत प्रजापत, अनिल गहलोत, दीपक बिड़कर, विवेक गौड़, कैलाश पिपलोदिया, ईश्वर वैष्णव, राजेश डाबी, गोल्डी चौहान, कुलदीप आर्य, गौरव वैष्णव, चिंटू राठौर, अंकित कोहली, आकाश सिसोदिया, मयंक म्हाले, डॉ रफीक शेख, अन्नू पहलवान, राहुल परमार, हेमराज सुजान, टायसन, सोहेल बिल्ला आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे। सभी ने इस घटना की कड़ी शब्दों में निंदा करते अपराधियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की मांग की।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: