मशीन खराब होने पर उसे तुरन्त बदलने के लिये ई.व्ही.एम. और व्ही.व्ही.पैट रिजर्व रखी गई हैं।

मशीन खराब होने पर उसे तुरन्त बदलने के लिये ई.व्ही.एम. और व्ही.व्ही.पैट रिजर्व रखी गई हैं।

ई.व्ही.एम. और व्ही.व्ही.पैट से गोपनीय, विश्वसनीय और सुरक्षित मतदान होगा

भोपाल। विधानसभा चुनाव 2018 में सभी 65 हजार 367 मतदान केन्द्रों पर मतदान के लिये ई.व्ही.एम के साथ व्ही.व्ही.पैट का उपयोग होगा। मशीन खराब होने पर उसे तुरन्त बदलने के लिये सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट के पास ई.व्ही.एम. और व्ही.व्ही.पैट रिजर्व रखी गई हैं।

वास्तविक मतदान कराने के पूर्व नोटा सहित सभी अभ्यर्थी के समक्ष का बटन दबाकर मॉकपोल किया जायेगा। मॉकपोल की स्लिप को काले लिफाफे में सील कर प्लास्टिक बॉक्स में रखकर पिंक पेपर सील कर मॉकपोल सर्टिफिकेट जारी होगा।

यदि व्ही.व्ही.पैट की बैटरी कार्य नहीं कर रही है या डिस्चार्ज है, तो मशीन को बन्द कर व्ही.व्ही.पैट. की नवीन बैटरी लगाई जायेगी। यदि मशीन में प्रिंटर की समस्या है, तो व्ही.व्ही. पैट मशीन को बन्द कर रिजर्व व्ही.व्ही. पैट से बदली जायेगी।

मतदाताओं द्वारा डाले गये सभी मत कन्ट्रोल यूनिट में और व्ही.व्ही.पैट. की पर्ची ड्राप बाक्स में पूर्णत: सुरक्षित है। ये मशीनें मतदान के दौरान कार्यशील न होने पर भी पूर्व में डाले गये सभी मत गोपनीय और सुरक्षित रहते हैं।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: