लूट, डकैती, बलात्कार, जैसी नौ घटनाओँ आरोपी हुए गिरफ़्तार

लूट, डकैती, बलात्कार, जैसी नौ घटनाओँ के आरोपी हुए गिरफ़्तार

धार। जिले के सरदारपुर टांडा क्षेत्र में लगातार घटित हो रही लूट और चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु जिला पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र कुमार सिंह ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रूपेश कुमार द्विवेदी, ओंकार सिंह क्लेश व सरदारपुर एस डी ओ पि ऐश्वर्य शास्त्री थाना प्रभारी बृजेश मालवीय अमझेरा थाना प्रभारी रतन लाल मीणा टांडा थाना प्रभारी मिर्जा बेग व क्राइम ब्रांच प्रभारी संतोष कुमार पांडे को निर्देशित किया था कि ईन घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु कार्यवाही कर अपराधियों को पकड़ा जाए।

इसी के तहत क्राइम ब्रांच प्रभारी संतोष पांडे को मुखबिर के द्वारा सूचना मिलने पर उन्होंने टांडा छात्र क्षेत्र में रहने वाले रेमु उर्फ रमिया पिता बनसिंह मीणा जिसका ससुराल पक्ष डाकुओं का कुख्यात गांव जामदा भूतिया है जो इन बदमाशों के गिरोह में शामिल होकर लूट व डकैती जैसी घटनाओं में संलीप्त हैं, और यह व्यक्ति सरदारपुर बस स्टैंड पर उपस्थित है इस बात की सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई और उनके निर्देशन में एसडीओपी व थाने की टीम और क्राइम ब्रांच ने कुछ ही समय में संदेही को पकड़कर पूछताछ शुरू कर दी पूछताछ में अपना नाम  रमिया पिता बन सिंह मीणा जाति भील उम्र 25 वर्ष निवासी मालपुर फलिया ग्राम डोबनी थाना टांडा जिला धार बताया। उसने पुलिस टीम द्वारा की गई पूछताछ में यह भी बताया कि मेरा ससुराल जामदा भूतिया में है। आरोपी से जब पुलिस द्वारा सख्ती से पूछताछ की गई तब उसने कबूल किया कि मैं इन लोगों को भलीभांति जानता हूं और जो लूट डकैती की घटनाएं हो रही है, यह गिरोह के कुछ सदस्य द्वारा की जा रही है, जो अभी टांडा क्षेत्र में भूतिया के पास में है। इन लोगों को पकड़ने के लिए उक्त टीम द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए 4 लोगों सहित देसी कट्टा व एक लोहे का धारदार फलिया जप्त किया गया जिन आरोपियों को पकड़ा गया उनके नाम निम्नानुसार है, जसू पिता उमराव सिंह मीणा जाति भील उम्र 22 साल निवासी पटेल पुरा फलिया ग्राम भूतिया, अनिल पिता कालू भूरिया जाति भील उम्र 19 वर्ष निवासी मेढ़ा फलिया ग्राम भूतिया, सूक्तन उर्फ सूरज पिता सूरसिंह मीणा जाति भील उम्र 18 वर्ष निवासी चौहान फलिया ग्राम भूतिया, बालू पिता कालू भूरिया जाति भील उम्र 16 साल निवासी मीणा फलिया ग्राम भूतिया इन पांचो आरोपियों ने पूछताछ के दौरान सरदारपुर अमझेरा टांडा की लूट डकैती एवं बलात्कार की घटना अपने गांव भूतिया के अन्य साथियों के साथ करना कबूल किया है। 

कई अपराधों में इन अपराधियों का अज्ञात होने से मामलों की जांच नहीं हो पा रही थी जिस पर पुलिस अधीक्षक द्वारा ₹5000 के इनाम एवं टांडा थाना के अपराध क्रमांक 166 बटे 18 में ₹10000 के नगद इनाम की घोषणा की गई थी।

पुलिस द्वारा मिली जानकारी के अनुसार धार जिला के टांडा थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाला गांव जामदा भूतिया शातिर अपराधियों का गढ़ माना जाता है। जिन लोगों का काम चोरी डकैती व लूट करना ही है जो लोग पैसे से अपराधी प्रवृत्ति के हैं इन लोगों पर कई केस चल रहे हैं और इस गांव में करीब डेढ़ सौ से ज्यादा नाम दर्ज अपराधी हैं साथ ही इन लोगों में से 80 से ज्यादा लोग इनामी अपराधी हैं, जब जब पुलिस द्वारा इन लोगों की धरपकड़ की जाती है तब तब यह लोग आसपास के पहाड़ी इलाकों का फायदा उठाकर महिला, बच्चे व यह अपराधी लोग पहाड़ियों पर चढ़कर पुलिस दलों पर पत्थर व तीर से हमला कर देते हैं और पुलिस की कार्रवाई पर बेबुनियाद आरोप लगाते हैं। 

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: