शौक पूरा करने के लिए मोबाइल चोरी करने वाला शातिर चोर क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में

धार का रहने वाला है आरोपी, सरवटे बस स्टैण्ड पर होटल में करता है नौकरी।

आरोपी से थाना सिविल लाईल देवास, तथा संयोगितागंज इंदौर के 02 प्रकरणों का हुआ खुलासा। 2 मोबाईल, चोरी के एटीएम कार्ड बरामद।

इंदौर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्रीमति रूचिवर्धन मिश्र इन्दौर (शहर), द्वारा राहगीरों से राह चलते मोबाईल झपटने वाले तथा मोबाईल फोन चोरी करने वाले अपराधियों की पहचान सुनिश्चित कर, उनकी धरपकड़ हेतु इंदौर पुलिस के अधिकारियों को दिशा निर्देश जारी किये गये थे। पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) इंदौर सूरज वर्मा के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राईम ब्रांच अमरेन्द्र सिंह द्वारा क्राईम ब्रांच के समस्त टीम प्रभारियों को इस दिशा में प्रभावी कार्यवाही करने हेतु समुचित निर्देश दिये गये।

क्राईम ब्रांच इंदौर की टीम को सूचना मिली थी कि एक व्यक्ति चोरी के माबाईल बेचने के लिये जेल रोड के व्यापारियों के चक्कर लगा रहे हैं किंतु चोरी के मोबाईल होने से, जेल रोड के मोबाईल व्यापारी, खरीदने में आनाकानी कर रहे थे अतः वह लगातार मोबाईल बेचने हेतु ग्राहकों की तलाश में था। व्यक्ति के बारे में सूचना संकलित कर, ग्राहक बनकर क्राईम ब्रांच की टीम ने कमल मण्डलोई पिता रामलाला निवासी ग्राम बागलया तहसील मनावर जिला धार हाल मुकाम छावनी इंदौर को बुलाया। उक्त व्यक्ति ने बताया कि वह सरवटे बस स्टेण्ड पर होटल विजयश्री में काम करता है, जिसने स्वयं के पास चोरी के 02 मोबाईल होना बताया तथा टीम को बोला कि कोई खरीदने का इच्छुक हो तो सस्ते दामों में दे दूंगा। पुलिस टीम ने स्वयं का परिचय देते हुये आरोपी को चोरी के मोबाईल सहित हिरासत में लिया तथा मोबाईल कहां से चोरी किये हैं इस संबंध में पूछताछ की तो आरोपी ने खुलासा किया कि उसने 01 मोबाइल एवं एक पंजाब नेशनल बैंक का एटीएम कार्ड, सिविल थाना देवास क्षेत्र से चोरी किए थे आरोपी ने उपरोक्त वारदात अपने दोस्त के यहां की थी। उपरोक्त घटनाक्रम के परिपेक्ष्य में थाना सिविल देवास में अपराध क्रमांक 528/19 धारा 379 भादवि में पंजीबद्ध होना ज्ञात हुआ है।

अन्य दूसरा मोबाईल आरोपी ने छावनी, संयोगितागंज थाना क्षेत्र इंदौर से चुराना बताया जिसकी तस्दीक करने पर, थाना संयोगितागंज में अपराध क्रमांक 403/19 धारा-379 भादवि के तहत दर्ज होना पाया गया। आरोपी ने बड़ी चतुराई से फरियादी के मोबाईल पर हाथ साफ कर दिया था। आरोपी कमल मण्डलोई के कब्जे से दोनों प्रकरणों का मश्रूका बरामद कर उसे थाना संयोगितांगज के सुपर्द किया गया है तथा थाना सिविल लाईन कोतवाली को भी सूचित किया गया है।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: