करारी शिकस्त के बाद बोखलाए मंत्री, मीडिया से बनाई दूरी

हॉस्टल के मासूम छात्र ने रची साजिश, कई बच्चे हुए शिकार

हॉस्टल के छात्र द्वारा हॉस्टल अधीक्षक से पीड़ित व नाराजगी के चलते रची साजिश का पुलिस ने किया खुलाशा।

कानवन छात्रावास के अधीक्षक को हटाने के लिए छात्र ने रची साजिश, पुलिस ने किया खुलासा।

धार। छात्रावास की वार्डन के द्वारा निम्न स्तर का खाना देने के कारण छात्र परेशान था जिसकी शिकायत छात्र ने अधीक्षक को की थी सुनवाई नहीं होने के कारण छात्र नाराज़ हो गया था। छात्र ने अधीक्षक को हटाने के लिए साजिश रची।

शनिवार 31 अगस्त 2019 को मासूम छात्र ने आदिवासी सीनियर बालक छात्रावास कानवन में पानी की टंकी व नमक में कीटनाशक मिला दिया जिससे छात्रावास के 32 बच्चों को घबराहट व उल्टी की शिकायत हुई। बच्चों को तत्काल बदनावर के स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती करवाया गया और उपचार करवाया गया और सभी बच्चे दूसरे दिन तक स्वास्थ्य हो गये।

घटना की जाँच बारीकी से की गई और आसपास खोजबीन की गई जिसमें छात्रावास परिसर से दो शीशी मिली जिसमे कीटनाशक दवाओं की बदबू आ रही थी। छात्रावास के सभी बच्चों से पूछताछ की गई। पूछताछ के दौरान पता चला कि छात्रावास के दो भाइयों ने खाना नहीं खाया और पानी भी नहीं पिया हैं, और बीमार होने का सबसे ज्यादा ढोंग कर रहे थे, उनसे पूछताछ की गई तो पता चला कि छात्रावास के अधीक्षक को हटाने के लिए यह साजिश रची गई थी। छात्रावास में निवासरत बच्चों ने कीटनाशक से दूषित पानी का सेवन किया जिससे लगभग 32 छात्र अचानक बीमार हो गए थे। उपचार तत्काल मिल जाने से छात्रों की जान तो बच गई लेकिन बड़ा हादसा होने से बच गया।

छात्रावास अधीक्षक के द्वारा अपने कर्तव्य के प्रति गंभीर लापरवाही बरती गई हैं। इस पूरी घटना को अगर देखा जाए तो सबसे बड़ी लापरवाही छात्रावास अधीक्षक जगदीश की है जिन्होंने बालकों के साथ उनके भोजन व उन्हें दी जा रही सुविधाओं का लाभ बच्चों को नहीं मिल पा रहा था। जिस कारण बच्चों ने छात्रावास वार्डन व अधीक्षक को हटाने की साजिश रची।

अधीक्षक व जलवाहक पर गिरी निलंबन की गाज

सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग ने छात्रावास अधीक्षक व जलवाहक को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है और अधीक्षक का मुख्यालय नालछा व जलवाहक को सरदारपुर कर दिया है। निलम्बन के दौरान जीवन निर्वाह भत्ता आदि मिलता रहेगा।

 

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: