ओमिक्रॉन के मामले में बूम, नए साल में धारा 144 लागू

नई दिल्ली। देश में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के मामलों की संख्या 1000 के पार पहुंच चुकी। इसके कारण अबकी बार का नया साल फीका ही रहने वाला है, क्योंकि कई राज्य सरकारों ने नए साल के जश्न में शामिल होने वाले लोगों के लिए कोविड से संबंधित कुछ प्रतिबंध लगाए हैं। साथ ही राज्यों ने ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों से निपटने के उपायों को और सख्त कर दिया। 

दिल्ली में फीका रहेगा नया साल

नए साल 2022 को देखते हुए लगाए गए सबसे सख्त कोविड प्रतिबंधों में दिल्ली का नाम सबसे ऊपर है। ओमिक्रॉन मामलों में वृद्धि के कारण राष्ट्रीय राजधानी ने येलो अलर्ट जारी किया है। नए साल पर कोई कोरोना विस्फोट न हो इसके मद्देनजर शहर में रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रात का कर्फ्यू लगाया हुआ है। इसके अलावा, रेस्तरां, बार और सार्वजनिक परिवहन को 50 फीसदी बैठने की क्षमता के साथ चलाया जाएगा।

इस बीच दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि ओमिक्रॉन धीरे-धीरे समुदाय में फैल रहा है और राष्ट्रीय राजधानी में विश्लेषण किए गए नियमित कोविड मामलों के नमूनों में से 46 प्रतिशत में ओमिक्रॉन का प्रकार पाया गया है।

नए साल पर मुंबई में धारा 144 लागू

महाराष्ट्र में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन का तेजी से प्रसार होने लगा है। इसको देखते हुए महाराष्ट्र पुलिस ने राजधानी मुंबई में धारा 144 लागू कर दि है। धारा 144 लगाने के बाद अब महानगर में न्यू ईयर सेलिब्रेशन के दौरान पुलिस ने 30 दिसंबर से सात जनवरी तक रेस्टोरेंट, होटल, बार, पब, रिसॉर्ट और क्लब सहित किसी भी बंद या खुली जगह में नए साल के जश्न, पार्टियों पर रोक लगा दी है।

न्यू ईयर पर कर्नाटक, गुजरात, मध्यप्रदेश और यूपी में नाइट कर्फ्यू

तेजी से फैलने वाले कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को रोकने के लिए कई राज्यों में एहतियात के तौर पर रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक का रात का कर्फ्यू लगा दिया है। इनमें कर्नाटक,  गुजरात, मध्यप्रदेश और यूपी आदि शामिल हैं। साथ ही नए साल को देखते हुए राज्यों में सिर्फ 50 फीसदी क्षमता के साथ ही डीजे, क्लब, रेस्तरां और पब खोले जाएंगे।

190 अकेले मुंबई में ओमिक्रॉन के मामले

केंद्र और राज्यों से गुरुवार रात में उपलब्ध ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में ओमिक्रॉन मामलों की कुल संख्या करीब 1,200 थी। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने एक विज्ञप्ति में कहा कि महाराष्ट्र में 198 नए मामले दर्ज किए हैं, जिनमें 190 अकेले मुंबई में हैं। इसके साथ, राज्य में इन मामलों की संख्या बढ़कर 450 हो गई।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली में 263 मामले हैं, इसके बाद महाराष्ट्र में 252, गुजरात 97, राजस्थान 69, केरल 65, और तेलंगाना में 62 मामले हैं। ओमिक्रॉन के मामले अब तक 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पाए गए हैं।

गोवा सरकार ने हवाई अड्डे पर आने पर गैर उच्च जोखिम देशों से यात्रा करने वाले लोगों सहित सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को कोविड-19 का परीक्षण करने का निर्णय लिया है। गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने ट्विटर पर कहा कि गोवा सरकार ने अब सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों का परीक्षण करने के लिए जनहित में निर्णय लिया है।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: