चिटफंड कंपनी द्वारा 2 करोड़ से अधिक राशि निवेशकों को लौटाई

प्रदेश सरकार की कार्रवाई के बाद, चिटफंड कंपनी द्वारा 2 करोड़ से अधिक राशि निवेशकों को लौटाई गई।

रतलाम। मध्यप्रदेश शासन एवं गृह विभाग द्वारा जारी माफिया मुक्ति अभियान के तहत मध्य प्रदेश के समस्त जिला पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किया गया था कि चिटफंड कंपनियों के खिलाफ मुहिम चलाकर उनके कर्ताधर्ता के ऊपर कार्यवाही की जा कर पीड़ित निवेशकों का धन वापस दिलाया जाए।

जिस के संबंध में मध्य प्रदेश के सभी जिला पुलिस अधीक्षको ने अपने अपने क्षेत्रों में विशेष अभियान चलाकर पीड़ितों की शिकायतों पर कंपनी के संचालक एवं कर्ताधर्ताओ के ऊपर कारवाई कर करीब 400 खाताधारकों को 2 करोड़ से अधिक की राशि लौटाई गई।

रतलाम जिला पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने सोमवार को मीडिया से चर्चा करते हुए बताया कि संपूर्ण जिले में अभियान चलाकर भू माफियाओं और विभिन्न प्रकार के संगठित अपराध करने वाले माफियाओं जैसे अफीम डोडा चूरा तस्करी शराब तस्करी एवं जनता से धोखाधड़ी करने वाली चिटफंड कंपनियों के विरुद्ध कार्रवाई की गई थी जिसके फलस्वरूप सहारा इंडिया, धनवर्षा डेवलपर, मालवा अंचल, यूएस के, सहारा कोऑपरेटिव सोसायटी जैसी कंपनी की शिकायत बड़ी मात्रा में प्राप्त हुई। इन कंपनियों द्वारा आमजन के निवेश परिपक्व होने के उपरांत भी निवेशकों को उनके राशि का भुगतान नहीं किया जा रहा था।

शिकायतों के आधार पर जिले के विभिन्न थानों में इन संस्थाओं के विरुद्ध 406, 420 भादवि की धारा 6(1) मध्य प्रदेश निक्षेपको के  हितों का संरक्षण अधिनियम 2000 के अंतर्गत कुल आठ अपराध पंजीबद्ध किए गए।

उक्त कठोर कार्रवाई के फल स्वरुप सहारा इंडिया कंपनी द्वारा निवेशकों के पैसे लौटााना शुरू किए गए हैं। अभी तक कुल 400 खाताधारकों को  करीब 2 करोड़ से अधिक की राशि का भुगतान किया जा चुका है।

जिला पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने बताया कि इस संबंध में और भी शिकायतें प्राप्त हो रही है। उक्त शिकायतों को अनुसंधान में लिया जाकर चिटफंड कंपनियों से निवेशकों को उनकी जमा राशि दिलवाने के प्रयास लगातार जारी रहेंगे।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: