Madhyabharatlive (MBL) News

"with the truth"

CM took emergency meeting after increasing cases of Corona.

कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद सीएम ने ली आपात बैठक दिए निर्देश

Spread the love

भोपाल में कोरोना पॉजिटिव आने से चिंतित मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रालय में आपात बैठक बुलाई।

तुरंत सक्रिय होकर सभी आवश्यक कदम उठाए जाएँ

सीएम शिवराज ने क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप्स की बैठक में दिए यह निर्देश।

कार्यक्रमों पर रोक नहीं है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो काफ्रेंसिंग के जरिए क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक ली। सीएम शिवराज ने कहा हे कि मैं जनप्रतिनिधि मित्रों से अपील करना चाहता हूं। आपको दस्तक देना है प्रेरित करने के लिए एक मास्क के लिए, दूसरा टीकाकरण के लिए सड़कों पर उतरें। आज महाअभियान है आगे भी महाअभियान की तिथि हम तय करेंगे। टीका लगाना लोगों की जिंदगी बचाने का काम है। संक्रमण ना फैले इसके लिए सबसे जरूरी है मास्क लगाना। मैं भी मास्क लगवाने निकलूंगा, आप भी मास्क लगाएं और लोगों को मास्क लगाने का आग्रह करें। मास्क के फायदे ही फायदे हैं। इलाज की व्यवस्था हम करेंगे ही, ये चीजें अभी हम कर लेंगे तो संक्रमण ज्यादा नहीं फैलेगा।

सीएम शिवराज ने कहा कि मध्य प्रदेश की जनता को साथ लेकर, क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी को साथ लेकर कोरोना को कंट्रोल किया है। मैं कलेक्टर्स को निर्देश देता हूं कि क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी को पूरे सम्मान से सक्रिय करें। ये मिलकर काम करने का समय है। हमारे पास पर्याप्त मात्रा में दवाईयां उपलब्ध हैं। बांकी तरह के इंजेक्शन और व्यवस्थाओं की भी व्यवस्था करके हम रख रहे हैं। आक्सीजन लाने के लिए टैंकर की व्यवस्थाएं भी चाकचौबंध रखें। आक्सीजन प्लांट्स की क्षमता हमने काफी बढ़ाई है। उन्होंने कहा कि हम लहर आने ही ना दें, इसलिए मैं खुद भी काम करूंगा, क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी खुद भी काम करे। कलेक्टर्स प्रभारी मंत्रियों के साथ क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों से विस्तार से चर्चा कर लें। उसमें एनसीसी, एनएसएस, समाजसेवियों, अलग-अलग समाजों के लोगों को जोड़ें। 

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दिसंबर में हमें वैक्सीन के दोनों डोज पूरे करने हैं। उन्होंने कहा कि क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियां और अधिकारी अपने-अपने शहरों में आक्सीजन प्लांट और अन्य स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को देखें। कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर अभी से तैयारी करें, अगर देश में ओमिक्रोन वैरिएंट आता है तो इसके लिए पैरामेडिकल स्टाफ को ट्रेंड करेंगे। सीएम ने कहा कि सभी अधिकारी आक्सीजन प्लांट का जायजा लेने के साथ, आक्सीजन लाइन, आक्सीजन की शुद्धता और लाइन में कोई लीकेज तो नहीं है यह देखें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि प्रदेश के सभी अस्पतालों में कोरोना के उपचार से संबंधित सभी मशीनों की समीक्षा करें। इनका ट्रायल कर लें, बच्चों के वार्ड, ऑक्सीजन प्लांट, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, वेंटिलेटर सहित अन्य उपकरण की जाँच कर लें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में रोको-टोको अभियान को गति दें, कोई भी आँकड़े छुपाए न जाएँ।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिला सीएमएचओ की बैठक आज ही लें। रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट आदि पर कोरोना टेस्ट की व्यवस्था के निर्देश भी दिए गए। वर्तमान में रेलवे स्टेशन पर रेपिड एंटीजन टेस्ट किए जा रहे हैं। विभिन्न स्थानों पर आरटीपीसीआर टेस्ट की व्यवस्था के भी निर्देश दिए गए।

कार्यक्रमों पर रोक नहीं है

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा के सार्वजनिक कार्यक्रमों पर कोई रोक नहीं है, लेकिन फेस मास्क के उपयोग और अन्य सावधानियों को अपनाएँ, पूरी तरह सजग बने रहें तो संक्रमण का प्रसार नहीं होगा। प्रत्येक स्तर पर अलर्ट रहना आवश्यक है।

Follow Us