Election team attacked, case registered against 60 people

निर्वाचन टीम पर हमला, करीब 60 व्यक्तियों पर केस दर्ज

गंधवानी/धार। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के मतदान शांतिपूर्वक संपन्न होने के बाद। कल रात्रि में पोलिंग बूथों पर मतगणना की सारणीकरण किया जा रहा था, इस दौरान गंधवानी जनपद के ग्राम गरवाल में निर्दलीय प्रत्याशी के जीतने के बाद प्रतिद्वंदी प्रत्याशी के समर्थकों ने पोलिंग बूथ पर मौजूद कर्मचारियों के वाहन पर अचानक पथराव कर दिया।

इस घटना से बस के सभी कांच क्षतिग्रस्त हो गए साथ ही पथराव की घटना में धरमपुरी से ड्यूटी करने आए एक कर्मचारी भी घायल हो गया। इधर मामले की सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में पुलिस बल रात्रि में ही गांव पहुंचा तथा स्थिति को नियंत्रण करते हुए पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी। इधर विवाद की शुरुआत करने वाली महिला प्रत्याशी सहित समर्थकों के खिलाफ पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया है।

दरअसल गंधवानी विधानसभा हाल ही में अस्तित्व में आई ग्राम पंचायत गढ़वाल में पहली मर्तबा सरपंच के चुनाव हो रहे हैं। दूसरे चरण में यहां पर शुक्रवार को वोटिंग हुई। जहां पर कुल 5 महिला प्रत्याशी चुनावी मैदान में रही। बूथ क्रमांक 202 में काउंटिंग के बाद महिला प्रत्याशी भांगड़ी बाई के समर्थकों ने जीत की खुशी में ढोल बजाते हुए पटाखे फोड़ना शुरू कर दिए। इस दौरान निकटतम प्रतिद्वंदी रही रेशम बाई के समर्थक नाराज हो गए। इसी बीच मतगणना के बाद बूथ पर मौजूद कर्मचारी मतदान सामग्री लेकर बस में बैठ गए थे, तथा इनके साथ एक मोबाइल पार्टी भी थी।

Election team attacked, case registered against 60 people

अचानक कुछ लोगों ने पथराव शुरू कर दिया, इससे दो वाहनों के कांच टूटे है। मतदान दल पर हुए हमले के दौरान हुकुम पिता धनसिंह सहित 2 लोगों को हल्की चोट आई, जिन्हें तुरंत ही उपचार हेतु समीप के हॉस्पिटल भेजा गया। इधर सूचना पर एडिशनल एसपी देवेंद्र पाटीदार रिजर्व पुलिस टीम को लेकर गांव में मौके पर पहुंच गए थे।

नामजद सहित अज्ञात पर एफआईआर दर्ज

रात्रि में ही सूचना पर जिला निर्वाचन अधिकारी डॉक्टर पंकज जैन सहित एसपी आदित्य प्रताप सिंह भी बूथ पर पहुंच गए थे, साथ ही कर्मचारियों से घटना को लेकर जानकारी प्राप्त की इधर मामले की जांच में जुटी पुलिस टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए भीड़ में शामिल लोगों को चिन्हित करना शुरू कर दिया। पुलिस ने पंचायत चुनाव में प्रत्याशी रही रेशम बाई के समर्थकों को भड़काने के लिए जिम्मेदार माना है।

पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 147, 149,  332, 333, 353, 427 भादवि, 3 लोक सम्पत्ति नुकसान निवारण धिनियम में 1. बादाम पिता कनसिंह गेहलोत, 2. जितेन्द्र पिता भारत गेहलोत, 3. महेन्द्र पिता निर्भयसिंह गेहलोत, 4. फीतेश पिता धनपास गेहलोत, 5. रेशमबाई पति प्रदीप गेहलोत, 6. उर्मिला पति निर्मल गेहलोत निवासी गरवाल तथा अन्य 50, 60  लोगों को आरोपी बनाया गया है।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: