False story of self kidnapping to pay off debt

False story of self kidnapping to pay off debt

कर्ज चुकाने के लिये रचि स्वयं के अपहरण की झूठी कहानी

पुलिस ने चन्द्र घण्टे में घटना का खुलासा कर स्वंय के अपहरण की झुठी कहानी रचने वाले को किया गिरफ्तार।

सरदारपुर/धार। घटना का  संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनांक 14.03.2022 को थाना राजगढ़ पर परियादी विपिन पिता विजय कुमार पाण्डेय निवासी राजगढ़ ने थाने पर अपने वेट बस्द के अपहरण व उसकी फिरोती 10 लाख रुपये मांगने की रिपोर्ट थाने पर लिखाई, जिस पर थाना राजगढ़ पर अपराध क्रमांक 382/22 पास 361, 365 भादवि की धरा में कायम कर विवेचना मे लिया गया।

पुलिस द्वारा प्रकरण को तत्काल संज्ञान में लेकर वरिष्ठ अधिकारियों, पुलिस अधीक्षक महोदय धार आदित्य प्रताप सिंह, अतिरिक्त पुलिस, अधीक्षक देवेन्द्र पाटीदार, एसडीओपी  सरदारपुर रामसिह मेडा के निर्देशन में आरोपीयो की गिरफ्तारी व लापता की बरामदगी हेतु थाना प्रभारी बृजेश कुमार मालवीय के नेतृत्व में टीम गठित की गई।

दौराने विवेचना दिनांक 14.07.2022 को अपहद बरद पिता विपिन पाण्डेय निवासी राजगढ़ की तलाश राजगढ़ में व आसपास करते ज्ञात हुआ कि अपहद बरद कभी-कभी उसके निर्माणाधीन स्कुल मण्डीरोड पर जाता है। उसी सुत्र पर रवाना होकर विपिन पाण्डेय के निर्माणाधीन स्कूल पर पहुंचे जहां तलाश करते पाया गया की सिडियों के पास उसके जुते पढ़े हुये दिखे जहाँ बारिकी से तलाश करते वाथरुम तरफ से कराहने की आवाज सुनाई दी जहाँ वाथरूम मे बरद हाथ पैर बंधी हुई अवस्था मे मिला जिसे मौके से दस्तयाब कर थाने लाया गया। थाने पर पुछताछ करते अपहरण की झूठी कहानी बताई कि तीनो लोगो द्वारा मुझे बाधकर बाथरुम छिपा दिया था।

चूँकि जिस मोबाईल से फिरोती के लिये फोन किया गया था वह अपहर्त वरद द्वारा एक दिन पहले ही स्वयं के नाम से खरीदा गया था। शंका होने पर अपहृत वरद से सख्ती से पूछताछ की गई जिसमे बताया गया की, मुझे पैसो की आवश्यकता होने से व लोगो की देनदारी होने से मुझे पैसो की आवश्यकता थी इसलिये मेने घरवालों से पैसे एठने के लिये एक प्लान बनाया कि खुद के अपहरण की झूठी कहानी बनाकर पैसे घर वालो से एंठ लेता हूं।

इसलिये मैने नया सिमकार्ड खरीदा और घरवालो को आवाज बदलकर मुंह पर कपड़ा लगा कर 10 लाख रुपये फिरोती के मांगे तथा स्वयं के हाथ पर पैर बांध कर बाथरूम बैठ गया। पुलिस द्वारा खुलाशा कर आरोपी से घटना मे उपयोग किया गया मोबाईल व सिम जप्त की गई एवं आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायलय पेश किया गया।

उक्त घटना से शहर में व्यापारियों में हडकंप मच गया था एवं सनसनी फैल गई थी, किन्तु राजगढ़ थाना पुलिस के द्वारा वरिश्ठ अधिकारियो के निर्देशन मे त्वरित रूप से कार्यवाही की जाकर इस घटना का कुछ ही समय मे पर्दाफाश कर सत्यता उजागर कर दी गई।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी बृजेश कुमार मालवीय, उनि भुपेन्द्रसिंह परिहार, सउनि राजपुत, रामसिंह हटीला, प्र. आर. 335 विपिन कटारा आर. जितेन्द्र, लखन, सत्यपाल, सैनिक रतन का विशेष योगदान रहा।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: