कलयुगी माँ ने रुपये देकर करवाई बेटे की हत्या

Share Post & Pages

पुलिस ने किया अंधे कत्ल का खुलासा माँ ने रुपये देकर करवाई बेटे की हत्या।

सरदारपुर/धार। लाबरिया माही डेम गोंदीरखेडा चारण में एक व्यक्ति की लाश एक बोरे के अंदर मिली थी। जिस पर थाना राजोद पर मर्ग क्रमांक 02022 धारा 174 जाफो का कायम कर जांच में लिया गया व मृतक की मोत संदीग्ध अवस्था में होने से प्रथम दृष्टया अपराध धारा- 302, 201 भादवि का पाया जाने से अज्ञात आरोपी के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

उक्त घटना के संबंध में श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय धार द्वारा अज्ञात आरोपीयो की अतिशिघ्र पतारसी कर गिरफ्तार करने हेतु 10 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया गया। श्रीमान देवेन्द्र पाटीदार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं श्री रामसिंह मेडा एसडीओपी सरदारपुर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी राजोद रोहित कछावा द्वारा सदर अपराध कि विवेचना की गई। विवेचना के दौरान अज्ञात आरोपी की तलाश करते मृतक पप्पु के मोबाइल की आईएमईआई सर्च करते उक्त मोबाईल सुरेश पिता कैलाश मावी निवासी नरसिंह देवला द्वारा चलाना पता चला जो उक्त आदमी की तलाश करते पीथमपुर काली बिल्लोद में होने से टीम द्वारा पीथमपुर जाकर उक्त व्यक्ति से पूछताछ करते उसने बताया कि मोबाईल विक्रम पिता मुकेश निनामा नि. एहमद द्वारा 1500 रूपये में खरीदना बताया बाद दबिश देते ग्राम एहमद से विक्रम पिता मुकेश निनामा सावन पिता मुन्नालाल गणावा, मृतक के भाई पुँजा पिता शंकर गामड व मृतक की माँ गीताबाई पति शंकर गामड सभी निवासीयान एहमद को पकड़ा व पुछताछ करने पर उन्होने जुर्म स्वीकार किया।

आरोपीयों से हिकमत अमली से पूछताछ करते पर बताया कि करीबन 2 महिन पहले विक्रम व सावन को पुंजा मिला था, जिसने उसको बताया कि उसका भाई पप्पु रोज शराब पीकर खुद के बच्चे व अपनी माँ गीताबाई को परेशान करता है व मारपीट कर गालीगलोच करता है। हम उससे बहुत परेशान हो गये है मेरी माँ चाहती है कि पप्पु को खत्म कर दें। इसलिये गीताबाई ने पुंजा को 30 हजार रुपये पप्पु को मारने के लिये दिये थे। तब पुंजा ने पप्पु को खत्म करने के लिये विक्रम व सावन को 30 हजार रुपये दिये थे जो विक्रम व सावन ने 15-15 हजार रुपये आपस में बाट लिये थे। दिनांक 16.10.2022 को रात करीब 10.00 बजे पुंजा ने विक्रम को फोन लगाकर उसने कहा कि तु सावन को लेकर घर आ जा पप्पु घर पर है। मेरी माँ उसी के साथ उसी कमरे में सो रही है। माँ ने दरवाजा खुला छोड़ा है, तुम दोनो आकर पप्पु का खेल खत्म कर दो। फिर विक्रम व सावन दोनों पप्पु के घर गये पप्पु के घर का दवारावा खुला था पुंजा भी उसके घर से बाहर आ गया था, फिर यह तीनो पप्पु के घर में घुसे पप्पु खाट पर सो रहा था, पप्पु की माँ भी जगी हुई थी, फिर तीनो ने पप्पु को पकड़कर उसका गला दबाकर मार दिया फिर पुंजा की माँ गीताबाई बोली की पप्पु की लाश को यहाँ गाड़ दो तो तीनो ने घर में पड़े गेती फावडे से घर के अंदर गड्ढा खोदकर पप्पु की लाश को गाड़ दिया फिर पुंजा ने विक्रम को बोला की पप्पु का मोबाईल यहा से लेकर कही पर फेक देना तो वह मोबाईल विक्रम ने अपने पास रख लिया व सिम तोडकर गांव के बाहर फेक दी और दोनो अपने अपने घर चले गये। दिनाक 19.10.2022 को पुंजा से विक्रम और सावन मिले और पुजा ने बताया कि लाश से बदबू आ रही है। उसे गड्डे से निकालकर कहीं नदीं में फेक आओ इस काम के 10 हजार रुपये दूंगा तो विक्रम और सावन पुंजा के घर गये पूंजा व उसकी माँ गीताबाई मोजुद थे, फिर तीनो ने गेती फावडे से गड्डे को खोदकर पप्पु की लाश को गड्ढे से बाहर निकाला व प्लास्टीक की पत्नी लपेटकर उसे बोरे में डालकर बोरे का मुँह सुतली से बांधकर पुंजा की मोटर सायकल से रात करीब 12.00 बजे विक्रम व सावन दोनो लाश को लेकर ग्राम गोंदखेडा चारण माही डेम पर आये व पुल से लाश को नीचे फेक दिया।

घटना में त्वरित कार्यवाही करते हुये आरोपी विक्रम पिता मुकेश निनामा जाति भील उम्र 19 साल सावन पिता मुन्नालाल गणावा जाति भील उम्र 20 साल, पुंजा पिता शंकर गामड जाति भील उम्र 35 साल व गीताबाई पति शंकर गामड जाति भील उम्र 60 साल सभी निवासीयान एहमद थाना सरदारपुर जिला धार को गिरफ्तार किया गया।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी राजोद निरी. रोहित कछावा उनि ओमप्रकाश बडोनिया, प्रआर 644 मंगलसिंह मेडा, आर.929 ईश्वर गरुडा आर 1043 मोहित सेन आर. 1017 कैलाश बारिया आर 1127 हिना खराडी व सायबर सेल आरक्षक प्रशांत का सराहनिय योगदान रहा।

Follow Us Social media

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़