Life imprisonment for murder accused

हत्या के आरोपी को आजीवन कारावास

सागर। न्यायालय-श्रीमान शिव बालक साहू, द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश सागर के न्यायालय ने आरोपी दीनदयाल रैकवार पिता आनंदी रैकवार निवासी पीपरा थाना नरयावली जिला सागर को हत्या के मामले में दोषी पाते हुए आजीवन कारावास एवं 1000 रूपये के अर्थदण्ड से दंडित किया गया।

राज्य शासन की ओर से पैरवी उप-संचालक अभियोजन अनिल कटारे एवं वरिष्ठ सहा. जिला अभियोजन अधिकारी सौरभ डिम्हा ने की।

लोक अभियोजन के मीडिया प्रभारी सौरभ डिम्हा ए.डी.पी.ओ. ने बताया कि दिनांक 26.06.2021 की शांम करीब 06 बजे जब आहत अभिषेक रजक बस स्टेण्ड पर अपनी टायर पंचर की दुकान पर बैठा था तथा आरोपी दीनदयाल रैकवार आहत अभिषेक रजक की दुकान के बाजू में चाय का टपरा खोले हुए था तो दीनदयाल रैकवार उसकी चाय की दुकान के पास बैठने पर से आहत अभिषेक को मां बहिन की गंदी-गंदी गालियां देने लगा तथा गाली देने से मना करने पर आरोपी अपनी दुकान से लोहे की धारदार कुल्हाडी लेकर आया तथा आहत अभिषेक रजक की गर्दन पर जानलेवा वार किया। जिससे अभिषेक रजक की गर्दन पर गहरा घाव लग गया उसके चिल्लाने पर वहां गांव के लोग इकट्ठे हो गये तथा आरोपी दीनदयाल रैकवार वहां से भाग गया। जिसके बाद गंभीर रूप से घायल अभिषेक रजक को उसका भाई अनिकेत रजक प्राइवेट जीप से जिला अस्पताल सागर इलाज हेतु लेकर आया जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मृतक के भाई अनिकेत की सूचना पर थाना नरयावली में अपराध क्रमांक 227/2021 अंतर्गत धारा 302, 294 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया तथा विवेचना उपरांत अभियोग पत्र माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया। न्यायालय के समक्ष अभियोजक की ओर से मृतक अभिषेक रजक की आरोपी दीनदयाल रैकवार द्वारा हत्या कारित करने के ठोस सबूत प्रस्तुत किये गये तथा अभियोजन के द्वारा प्रस्तुत सबूतों और दलीलों से सहमत होते हुए माननीय न्यायालय द्वारा आरोपी दीनदयाल रैकवार को हत्या का दोषी करार देते हुए भादवि की धारा 302 के तहत आजीवन कारावास एवं 1000/- रू अर्थदण्ड से दंडित करने का निर्णय पारित किया।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: