Murder in greed of crores of land now jail

करोड़ों की जमीन के लालच में हत्या अब जेल

धार। अंधे कत्ल का पर्दाफाश। काका जगदीश की करोड़ो की जमीन को हड़पने के लालच में सगे भतीजे शुभम व जमाई माखन ने षड़यंत्र रच कर दिया था हत्या को अंजाम। 80,000/- रुपये में सुपारी देकर कराई हत्या। हत्या को अंजाम देने वाले सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्तं में।

घटना दिनांक 25.04.2022 को सुबह 08 बजे के लगभग पुलिस को सुचना प्राप्त हुई की माण्डव रोड़ देदला फाटे पर स्थित मृतक जगदीश पिता गुलाब सिंह राजपुत उम्र 43 निवासी ग्राम देदला के सुने मकान में उसका शव खुन में लथ-पथ पड़ा है, सुचना पर पुलिस थाना कोतवाली नें तत्काल पहुच कर घटना स्थल का बारिकी से निरक्षण किया व मोके पर एफ.एस.एल अधिकारी सुश्री पिंकी मेहरड़े द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण कर साक्ष्य एकत्रित किये गए।

मृतक जगदीश की अज्ञात आरोपीयों द्वारा रात्री में रस्सी से गला दबाकर व सिर पर किसी भारी वस्तु से चोट पहुचा कर उसकी हत्या की थी। मृतक जगदीश की माँ अहिल्या बाई की रिपोर्ट पर से थाना कोतवाली धार पर अपराध क्रमांक 319/2022 धारा 302 भादवि का अज्ञात आरोपियों के विरुध्द कायम कर विवेचना में लिया गया।

गाँव व घटना स्थल पर सतत पुछताछ, पताराशी करते पुलिस को जानकारी प्राप्त हुई की मृतक जगदीश व उसके भतीजे शुभम का जमीन बटवारे को लेकर काफी समय से विवाद चल रहा था, जिस पर परिवार में कलह बना हुआ था, गाँव वालो से पुछताछ करने पर पाया की शुभम ओर उसका जीजा माखन आपस मे कुछ दिनो से ज्यादा मेल- मिलाप कर रहे थे। उक्त क्रियाकलापो से संदेह होने पर भतीजे शुभम व जमाई माखन के बारे में पुलिस द्वारा जानकारी एकत्रित की गयी, जानकारी में पाया की उक्त घटना में दोनो की सलिंप्ता है, जिसमें सायबर सेल एक्सपर्ट सर्वेश सिंह एवं प्रशांत सिहं की मदद से तकनिकी सहायता प्राप्त कर सदेंहियो के संबधं में महत्वपुर्ण जानकारी एकत्रित की गई, उक्त जानकारी का पुछताछ में अहम भुमिका रही, सख्ती से पुछताछ करने एवं पुलिस द्वारा पुर्व से ही जानकारी एकत्रित करने के कारण आरोपीयों द्वारा उक्त घटना को स्वीकार किया गया एवं बताया की मृतक जगदीश द्वारा अपने भतीजे शुभम से जमीनी विवाद है एवं मृतक अपनी जमीन बैचना चाहता था। जिस बात से नाराज शुभम नें अपने जीजा माखन के साथ साजीश रच कर अपने काका जगदीश की हत्या करने का प्लान बनाया।

जिसके लिये माखन व शुभम ने अपने दोस्त – अमन जाट एवं अर्जुन प्रजापत को जगदीश की हत्या करने के लिये 80000/- रुपये में सुपारी दी एवं दोनो को 10,000-10,000 हजार रुपये एडवासं दिये व आरोपी शुभम ने घटना दिनांक 24.04.2022 की शाम को काका जगदीश के खेत वाले मकान से अपनी दादी अहिल्या बाई को अपने घर देदला लेकर गया व शुभम माखन द्वारा अपने दोस्त अमन जाट व अर्जुन प्रजापत को सुचना दी गयी की आज रात जगदीश अपने खेत वाले मकान पर अकैला सोएगा। जिस पर से प्रकरण के आरोपी अर्जुन ओर अमन जाट द्वारा रात्रि करीब 11.00 – 12.00 बजे के लगभग जगदीश के खेत वाले मकान पर जाकर अमन व अर्जुन ने जगदीश की रस्सी से गला दबा कर व लोहे की टामी सिर में चोट पहुचा कर जगदीश की हत्या कर दी।

गिरफ्तार आरोपी – 01. शुभम उर्फ उमेश पिता संतोष निक्कम जाती राजपुत उम्र 20 साल निवासी देदला (मृतक का भतीजा)
02. माखन पिता चंदन सिंह पँवार जाती राजपुत उम्र 20 साल निवासी लुन्हैरा (मृतक का जमाई एवं आरोपी शुभम का जीजा)
03. अमन पिता शंकर जाट उम्र 28 साल निवासी तलवाड़ा
04. अर्जुन उर्फ ओमप्रकाश पिता तेजराम प्रजापत जाति कुम्हार उम्र 22 साल निवासी आमखेड़ा

उक्त घटना के खुलासे व पतारासी एवं साक्ष्य संकलन व गिरफ्तारी में एफ.एस.एल अधीकारी पिकीं मेहरड़े, थाना प्रभारी कोतवाली समीर पाटीदार, सायबर क्राईम प्रभारी त्रिलोक सिंह बैस थाना कोतवाली धार के उनि. जगदीश चौहान, सउनि निलेश यादव, प्र.आर. गजेन्द्र सिंह, आशिफ शेख, सुनिल यादव, आर प्रदीप पाटील चालक – सउनि राम नरेश तिवारी एवं सायबर शाखा से आर. सर्वेश सिंह, प्रशांत सिंह का सराहनीय योगदान रहा।

Follow Us

%d bloggers like this: