Madhyabharatlive (MBL) News

"with the truth"

पर्व पर प्रशासन द्वारा वैकल्पिक व्यवस्थाओं के इंतजाम नहीं

पर्व पर प्रशासन द्वारा वैकल्पिक व्यवस्थाओं के इंतजाम नहीं

Spread the love

ओंकारेश्वर/खंडवा। (ललित दुबे) भूतड़ी अमावस्या के 2 दिन पूर्व से ही झाड़-फूंक करने वाले देवी देवता के इष्ट वाले भक्तगण ओकारेश्वर में आने लग गए हैं। रविवार को ऐसे ही एक महिला को देवी आई और नर्मदा जी में खड़े होकर उन्होंने पीड़ित लोगों का इलाज किया उनकी बाधाओं को दूर करने के लिए आशीर्वाद दिया। 

यह क्रम लगातार अमावस तक चलेगा। विशेष कर संगम घाट पर काफी भीड़ रहेगी 3 दिन तक लगातार श्रद्धालुओं का आना जारी रहेगा। मालवा निमाड़ के श्रद्धालु काफी मात्रा में ओकारेश्वर पहुंचेंगे। 

श्राद्ध पक्ष के समाप्त होते ही नवरात्रि प्रारंभ हो जाएगी देवी देवता के इष्ट वाले अपने अस्त्र शस्त्रों को भी स्नान करवाने आएंगे और नवरात्रि में उनकी स्थापना करेंगे। श्राद्ध पक्ष में श्रद्धालु अपने पितरों का तर्पण भी नर्मदा के तट पर कर रहे हैं। बड़ी श्रद्धा के साथ पितरों के मोक्ष के लिए देव ऋषि मनुष्य पित्र तर्पण किया जा रहा है। चावल जौ तिल पुष्प तुलसी दूध चंदन के द्वारा यह तर्पण विधि विधान से पंडित रुकमानगत जी शुक्ल करा रहे हैं। 

ओंकारेश्वर के सभी घाटों पर श्रद्धालुओं का आगमन एवं चहल पहल होगी। प्रशासन के लिए आने वाली भीड़ एवं यातायात व्यवस्था चुनौती के रूप में होता है। अभी तक प्रशासन द्वारा कोई वैकल्पिक व्यवस्थाओं के इंतजाम नहीं किए गए। 

Follow Us