Order to return money with 9% interest

9 फीसदी ब्याज के साथ पैसा लौटने का आदेश

सहारा को दिया 9 फीसदी ब्याज के साथ पैसा लौटने का आदेश। 

भोपाल। सहारा इंडिया में लाखों लोगों के मेहनत की कमाई का करोड़ों रुपए अटका हुआ है। निवेशक धन वापसी के लिए कई वर्षो से सहारा जैसी कई कंपनियों के कार्यालय के चक्कर काट रहे हैं। इन सब के बिच हाल ही में सरकार ने भी सहारा पर सवाल खड़ा किया था। वहीं, हाल ही में सहारा ने एक पत्र जारी कर कहा की सारे पैसे सेबी के पास है। वहीं अब एक मामला कोर्ट में पहुंचा है, जिसके बाद 9 फीसदी ब्याज के साथ पैसा लौटने का आदेश सहारा को दिया गया है।

दरअसल, निवेशकों को उनकी परिपक्वता अवधि समाप्त होने के बाद भी उन्हें उनकी जमा पूंजी नहीं मिलने से परेशान निवेशकों ने कई बार कोर्ट का दरवाजा खट- खटाया। कई निवेशकों का कहना हे की मैच्योरिटी पर मूल धन (जमा राशि) का सवा दो गुना मिलना था। मैच्योरिटी डेट समाप्त होने के बाद भी पैसे नहीं दिए गए।

नहीं हुई राशि ढाई गुना देने की पुस्टि

एक मामले की सुनवाई के दौरान आवेदक के परिपक्वता पर जमा की गई राशि का ढाई गुना राशि प्राप्त करने के दावे की पुष्टि नहीं हुई। जिसके बाद आयोग के अध्यक्ष जनार्दन त्रिपाठी व सदस्य मनमोहन कुमार ने सहारा को जमा किए गए कुल राशि के 9 फीसदी वापस करने का आदेश दिया है। इसके साथ ही दस हजार रुपए आवेदक को हुई आर्थिक और मानसिक क्षतिपूर्ति के लिए देने और मुकदमा में हुए खर्च के लिए 3 हजार रुपए कुल पैसे 2 माह के भीतर देने के आदेश दिया।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: