प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में घटिया निर्माण

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में ठेकेदार ने किया पुलिया का घटिया निर्माण। निर्माण एजेंसी के रुपए रोकने की उठी मांग।

सरदारपुर/धार। यूँ तो प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में हो रहे भ्रष्टाचार की बात किसी से नहीं छूपी है लेकिन प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क प्राधिकरण ईकाइ-3 धार के जिम्मेदार अधिकारी एवं इंजीनियर से ठेकेदार की सांठगांठ के चलते शिकायतों के बावजूद भी जांच करने के बजाए ठेकेदार को भुगतान कर दिया जाता है।

इस मर्तबा भी मैसर्स हाईवे इंफ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड इंदौर द्वारा राजगढ़ से झकनावदा फाटे के मध्य करोड़ों की लागत से चार पुलियाओ का निर्माण किया गया है। जिसमें अधिकांश जगहों पर सरिये मापदंड के अनुसार नहीं डाले गए हैं, डस्ट का भरपूर प्रयोग किया गया, भानगढ़ पुलिया का सड़क से लेवल नहीं किया गया, एक तरफ टच रिटर्निंग वाल ही नहीं बनाया गया, दुसरी ओर बने रिटर्निंग वाल पर बनाये बाॅक्स मे सरीये नही होने से बाॅक्स अभी से ही उखड़ने लगे है तथा पुलिया निर्माण के दौरान सर्विस रोड़ भी नहीं बनाया गया है।

इसी से नाराज ग्रामीणजन चाहते है कि ठेकेदार व उपयंत्री पर कार्यवाई कि जाकर शेष राशि के भुकतान पर रोक लगाई जाना चाहिए। इस मामले की शिकायत भी की जा चुकी है। लेकिन अब देखना यह होगा कि वरिष्ठ अधिकारियों एवं उपयंत्री मामले की निष्पक्षता से जांच कर पाएंगे या ठेकेदार से सांठगांठ कर रुपयों का भुगतान कर दिया जाएगा।

इस संबंध में जब हमारे संवाददाता ने धार मुख्यालय स्थित प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क प्राधिकरण ईकाइ-3 धार महाप्रबंधक एसके सिरोठिया से संपर्क कर उनका पक्ष जानना चाहा तब वह कार्यालय पर नहीं मिल पाए।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: