मध्यभारत Live

सच के साथ

Sex racket was running in rented house, booking was done on phone

किराए के मकान चल रहा था सेक्स रैकेट, फोन पर होती थी बुकिंग

कॉलोनी में किराए के  मकान में सैक्स रैकेट….दो लड़की और तीन लड़के पकड़ाए।

02 युवतियों व 03 युवको (सरगना सहित) को आपत्तिजनक अवस्था में पुलिस टीम ने किया गिरफ्तार। 

धार। शहर में जिस्मफरोशी का धंधा खूब फल-फूल रहा। लंबे समय से नगर की कई कालोनियों में इस तरह का गौरखधंधा संचालित किया जा रहा। कई मर्तबा इससे परेशान स्थानीय लोगो द्वारा इसकी सुचना पुलिस दी गई। पर पुलिस के आने से पहले ही भनक लगने यह लोग सावधानी पूर्वक बच निकलते पर कहते है की कानून के हाथ बहुत लम्बे होते है। आखिरकार शनिवार शाम ५ बजे कोतवाली पुलिस ने दबिश देकर पांच लोगों को हिरासत में लिया।

बताया जा रहा है कि इसमें सैक्स रैकेट चलाने वाले दलाल सहित दो युवतियां व दो युवकों को गिरफ्तार किया गया। यह युवतिया पैसे कमाने के लालच में धार आकर और किराए के मकान में जिस्मफरोशी का धंदा करती थी।

पुलिस को प्रारंभिक जांच में पता चला है कि शहर के एक युवक द्वारा इस अवैध धंधे को ऑपरेट किया जा रहा था। वॉटसएप पर युवतियों के फोटो भेजकर कस्टमर को उपलब्ध करवाए जाते थे, कंफर्मेशन होने के बाद कस्टमर बताए गए पते पर पहुंच जाता था। पुलिस से बचने के लिए ये लोग लगातार अपना ठीकाना बदलते रहते थे। बीते एक साल से किराए के मकान में शहर के विभिन्न इलाकों में सैक्स रैकेट का संचालन किया जा रहा था। बीते कुछ समय से दीनदयालपुरम कॉलोनी में इस अवैध देह व्यापार को चलाया जा रहा था।

यह पूरा धंदा वॉटसएप के जरीए संचालित किया जा रहा था। युवितयों को देखने से लेकर पसंद करने और सर्विस तक की सारी बुकिंग एप के जरीए ही की जाती थी। फोटो पसंद नहीं आने पर वीडियो कॉल तक की सुविधा संचालक की तरफ से ग्राहकों को दी जा रही थी। इस कारण शहर के कई युवाओं को इस गौरखधंधे के जरीए सर्विस उपलब्ध करवाई जा रही थी। पुलिस जांच में कई तथ्य सामने आ सकते है।

सायबर क्राईम ब्रांच धार टीम, थाना कोतवाली टीम व महिला थाने की टीम ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए मुखबिर द्वारा बताए गए स्थान मकान नम्बर 123 एलआईजी दिनदयाल कालोनी धार पर घेराबंदी कर दबिश दी। पुलिस टीम द्वारा उक्त मकान में बने दो कमरो से 02 युवक व 02 युवतियों को आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा, एक युवक जो मकान के आस-पास रेकी हेतु खडा था उसे भी अभिरक्षा में भी लिया गया। तीनों युवको का नाम-पता पूछते उन्होने अपना नाम-

1. दिनु उर्फ दिनेश पिता लुनाजी परमार उम्र 25 साल निवासी बस स्टेण्ड कलाली के पीछे थाना कोतवाली धार (दलाल)

2. जयदीप पिता विजय दीक्षित उम्र 25 साल निवासी दौलत नगर कालोनी थाना कोतवाली धार (ग्राहक)

3. राहुल पिता प्रहलाद पंवार निवासी प्रकाश नगर कालोनी थाना कोतवाली धार (ग्राहक) बताया।

पकडी गई दोनो युवतिया घाटाबिल्लोद क्षेत्र की रहने वाली है, जिन्होने पूछताछ में बताया कि दिनु उर्फ दिनेश परमार निवासी धार से उनकी जान पहचान है तथा दिनु के ही मोबाइल करने पर वह धार वैष्यावृति करने हेतु आती है। पुरूष ग्राहक से दिनु ही पैसे की रकम उगाता था, उन्हे 500/- रू. प्रति पुरूष ग्राहक के हिसाब से पैसे दिनु ही देता था। महिला पुलिसकर्मीयों ने युवतियो की तलाषी पृथक से ली, जिसमें युवतियों के पास से मोबाइल व वैष्यावृति में उपयोग की जाने वाली सामग्री मिली। पुलिस टीम द्वारा मौके से 04 मोबाइल फोन, 1250/- रू. व अन्य सामग्री जप्त कर तीनो युवक व दोनो युवतियों को गिरफ्तार कर थाना कोतवाली लाया गया एवं आरोपियों के विरूद्ध थाना कोतवाली में अपराध क्रमांक 617/22 धारा 3,4,5,6,7 अनैतिक व्यापार (निवारण) अधिनियम 1956 (सिट अधिनियम पुननिर्मित) का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। आरोपियों से जप्त किए मोबाइल फोन की विस्तृत जानकारी सायबर क्राईम ब्रांच के माध्यम से निकाली जा रही है। अनैतिक देह-व्यापार (वैष्यावृति) करने में लिप्त लोगों के विरूद्ध धार पुलिस की कार्यवाही सतत जारी रहेगी। 

आरोपियों को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी कोतवाली धार समीर पाटीदार, सउनि गजेन्द्रसिंह, सउनि निलेश यादव, सउनि रामनरेश तिवारी, प्रआर. सुनील, प्रआर. आशीफ, प्रआर. जितेन्द (अजाक), आर. रवि एवं महिला थाने से आर. ममता व सायबर क्राईम ब्रांच धार प्रभारी त्रिलोक सिंह बैस, सउनि भेरूसिंह देवड़ा, सउनि रामसिंह गौर, प्रआर. गुलसिंह, प्रआर. राजेश, आर. बलराम, आर. राहुल, आर. संग्राम, सायबर सेल धार से आर. सर्वेशसिंह, आर. प्रशांतसिंह, आर. शुभम की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

Spread the love