भ्रष्टाचार में लिप्त ग्रामीण यांत्रिकी सेवा RES के दो अधिकारी निलंबित

सरदारपुर/धार। धार जिले की सरदारपुर तहसील में ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के कार्य किसी से भी छिपे नहीं हे। RES  विभाग के अधिकारियों ने भ्रष्टाचार की चरम सीमा पार कर दी थी। जिसको लेकर मध्यभारत live  न्यूज़ ने प्रमुखता से समाचार का प्रकाशन किया जिसके फलस्वरूप जिला कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने जांच दल गठित कर बारीकी से जांच करने के निर्देश दिए। जांच में पाया गया कि ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के अधिकारियों द्वारा लगभग 48 लाख रुपए की लागत के तालाब निर्माण कार्य मैं करीब 23 लाख रुपए व्यय होना बताया गया। जिसमें जांच दल के द्वारा मूल्यांकन करने पर लगभग 8 से 10 लाख रुपए का कार्य निर्माणाधीन पाया गया एवं 14 लाख रुपए की लागत का कार्य क्षतिग्रस्त हुआ। इसी प्रकार चोटिया बालोद के बरखेड़ा वाला निस्तार तालाब जिसकी निर्माण लागत भी 48 लाख थी उसमें भी करीब 22 लाख रुपए व्यय होना पाया गया। मौके पर मूल्यांकन करने पर करीब 9 लाख रुपए का निर्माण कार्य पाया गया।

इन सभी कार्यों को देखते हुए जिला कलेक्टर द्वारा तत्कालीन उप यंत्री राजेश पवैया ग्रामीण यांत्रिकी सेवा सरदारपुर एवं अजमेर सिंह डोडवे अनुविभागीय अधिकारी ग्रामीण यांत्रिकी सेवा सरदारपुर दोनों के द्वारा कार्य का निष्पादन सही तरीके से नहीं किया जिसको लेकर इन दोनों को निलंबित किया गया।

प्रकाशित ख़बर क्रमांक 01…

भारी भ्रष्टाचार एवं घटिया निर्माण की शिकायत, निष्पक्ष जांच की मांग

प्रकाशित ख़बर क्रमांक 02…

RES विभाग के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़े तालाब, पहली ही बारिश में फूटे

Follow Us

सम्पादक :- मध्यभारत live न्यूज़

%d bloggers like this: