Madhyabharatlive (MBL) News

"with the truth"

महिला से पीछा छुड़ाने के लिए मारकर अधजला छोड़ दिया

Spread the love

धार। जिले की गंधवानी तहसील क्षेत्र में एक बड़ा ही निर्मम हत्या का मामला सामने आया है। जिसमें कातिलों ने महिला की निर्मम हत्या कर उसकी अधजली अवस्था में लाश को जलाकर छोड़ दिया था। इतना ही नहीं इन कातिलों ने उस महिला की हत्या करते समय महिला केे फोटो भी खींचे उसके पश्चात आरोपियोंं ने उसे जलाया।

आपको बता दे की एक तरफ हाथरस की घटना के पीछे पूरा प्रशासन और सभी का ध्यान लगा हुआ था उसी समय मध्य प्रदेश के धार जिले की गंधवानी तहसील में रहने वाली 1 महिला को कातिलों ने मार कर उसके शव को जलाने के बाद अधजली अवस्था में छोड़ दिया।

पुलिस के अनुसार दिनांक 1 अक्टूबर को एक व्यक्ति गलिया पीता फुल सिंह जाति भील निवासी अवलदा मान ने गंधवानी थाने पर जाकर बताया कि अवल्दामान पटेल पुरा में प्राथमिक स्कूल के पास  एक महिला की अधजलि लाश पड़ी हुई है। जिस पर थाना गंधवानी प्रभारी जयराम सोलंकी मय टीम के मौके पर पहुंचे ओर घटना का मौका मुआयना किया। एफएसएल टीम व फिंगरप्रिंट टीम के द्वारा बारीकी से निरीक्षण करवाया गया।

मृत महिला का शव देखने से ही पता चल गया था कि मामला हत्या का है शव को पोस्टमार्टम हेतु इंदौर एमवाय अस्पताल भेजा गया था। इस मामले में थाना गंधवानी की टीम द्वारा तत्काल शिनाख्त कर हत्या करने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी की गई।

पुलिस जांच में पता चला कि महिला का नाम केसर बाई पिता बकन भील उम्र 30 साल निवासी नर्मदा नगर चौकी निसरपुर थाना कुक्षी है। मृतिका केसरबाई अपने पति महेंद्र को छोड़ कर अकेले गणपुर बायो पेट्रोल पंप के पीछे तुलसीराम पिता जाम सिंह भील के मकान में किराए से रहती थी।

पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए अपराधी सोहन वास्कले से मृतिका के बारे में पूछने पर उसने बताया कि केसरबाई की हत्या करने के पीछे कारण यह है, कि वह अपने पति से अलग रह कर गोविंद पिता कालूराम के साथ रह रही थी गोविंद शादीशुदा होने के कारण केसरबाई से पीछा छुड़ाना चाहता था साथ ही 3 से 4 माह पूर्व सोहन के रिश्तेदार दिनेश भिलाला बोरडाबरा की शादी मृतिका केसरबाई ने एक लड़की से ₹80000 लेकर करवाई थी उक्त लड़की कुछ ही दिनों में वहां से मायके जाने के बहाने चली गई। उसके उपरांत दिनेश के घर नहीं गई जिससे दिनेश अपने रुपए की मांग करने लगा। साथही गोविंद भी उक्त मृतिका से परेशान था।

इसलिए सोहन एवं गोविंद दोनों ने मिलकर हत्या करने की सोची वह मृतिका को ग्राम खेरवा के जंगल में लेकर गए वहां पर गोली मारकर एवं चाकू से हत्या कर दी। उसके बाद लाश को बोरे में भरकर मोटरसाइकिल से अवल्दामान ले गए वहां लाश का चेहरा छोड़कर बाकी शरीर घासलेट डालकर जला दिया आरोपियों ने मृतिका का शव अवलदामान इसलिए फेंका ताकि ग्राम बोरडाबर वालों के ऊपर हत्या का शक हो।

पुलिस द्वारा आरोपी सोहन को अपराध क्रमांक 345/20 धारा 302, 201, 34 भादवी में केसरबाई की हत्या करने के जुल्म में गिरफ्तार कर लिया गया है। एक और सहयोगी आरोपी गोविंद अभी फरार चल रहा है।

उक्त घटना का खुलासा जिला पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह ने पत्रकार वार्ता के दौरान किया।

Follow Us