madhyabharatlive

Sach Ke Sath

2 robberies exposed in 9 days, 03 accused of gang arrested

2 robberies exposed in 9 days, 03 accused of gang arrested

9 दिनो में 2 लूट का पर्दाफाश, गिरोह के 03 आरोपि गिरफ्तार

2 लाख 3 हजार रुपये नगदी व 03 मोटर सायकल कुल मश्रुका कीमती 3 लाख 50 हजार रुपये बरामद।

धार। पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह की सामुदायिक पुलिसिंग व स्वयं मैदान में उतरकर लगातार साप्ताहिक हाट-बाजारो व गांवो में पैदल भ्रमण करने से आमजनता का पुलिस पर विश्वास बढ़ा, जिसके फलस्वरुप ग्रामीण क्षेत्रो से प्राप्त मुखबिर सूचना के आधार पर विगत 9 दिनो में हुई लूट की घटना में थाना डही, थाना कुक्षी व सायबर सेल धार टीम की संयुक्त कार्यवाही।

दिनांक 23.05.2024 को 04 अज्ञात आरोपियो ने थाना डही क्षेत्रांतर्गत बडवान्या-मकडवानी फाटे के पास मोटर सायकल से जा रहे मुनिम के साथ आंखो में मिर्ची पावडर डालकर, लूटपाट की घटना को अंजाम दिया था।

पुलिस टीम द्वारा 03 आरोपियो के कब्जे से लूट में गए मश्रुका में से नगदी 2,03,000/- रुपये व 03 मोटर सायकल कुल मश्रुका कीमत 3,50,000/- रुपये को बरामद।

पूछताछ में आरोपीगणो द्वारा दिनांक 22.05.2024 को थाना मनावर के सिंघाना क्षेत्र में भी मोटर सायकल से जा रहे राहगीर के साथ लूट की घटना करना स्वीकार किया, उक्त प्रकरण की विवेचना जारी है।

दिनांक 23.05.2024 को फरियादी रमेश पिता दुधाजी परिहार जाति सिर्वी उम्र 50 साल निवासी ग्राम बडदा थाना कुक्षी ने थाना डही पर आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि मै बडदा रहता हूँ तथा विशाल गुप्ता के यहां मुनिम होकर कलेक्शन का काम करता हूँ। आज कलेक्शन के लिये करीब 01/30 बजे डही आया था। कलेक्शन के बाद शाम करीब 05:00 बजे विशाल गुप्ता (सेठ) की मोटर सायकल से कुक्षी जा रहा था कि बडवान्या मकडवानी फाटे के पहले पुलिया के पास मोटर साईकिल पर 03 अज्ञात नकाबपोश बदमाशो ने पीछे से मेरी मोटर सायकल को लात मार कर गिरा दिया, बाद तीन बदमाशो में से 01 बदमाश ने आंख में मिर्ची डालने की कोशिश की लेकिन मिर्ची आंख में नहीं घुसी। एक ने अपने हाथ में पिस्टल जैसी ले रखी थी, जिसे मेरे सिने पर अड़ा दी तथा एक बदमाश मेरी गिरी हुई मोटर सायकल पर से रूपयों से भरा झोला लेकर भाग गया।

मेरे झोले में रसीद कट्टा, मेरा आधार कार्ड तथा नगदी लगभग 2,89,000/- रुपये थे। फरियादी रमेश की रिपोर्ट पर से थाना डही में अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध अपराध क्रमांक 134/2024 धारा 394 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया।

राहगीर के साथ दिनदहाडे हुई लूट की घटना को पुलिस अधीक्षक धार मनोज कुमार सिंह द्वारा गंभीरता से लेते हुए स्वयं घटना स्थल पहुंचे एवं घटना स्थल के आस-पास के लोगो, व्यापारियों व पीडित से स्वयं प्रत्यक्ष रुप से बातचीत की। साथ ही सूनसान रोड़ पर राहगीरो के साथ मारपीट कर लूट, डकैती करने वाले गिरोह को चिन्हित कर आरोपियो की शीघ्र गिरफ्तारी करने हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धार डॉ. इंद्रजीत बाकलवार के निर्देशन में एस.डी.ओ.पी. मनावर अंकित सोनी (I.P.S.) , एस.डी.ओ.पी. कुक्षी सुनील गुप्ता, थाना प्रभारी डही उनि दिलीप कुमार तडेवला के साथ-साथ सायबर शाखा पर्यवेक्षणकर्ता अधिकारी उप पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह सिसौदिया व सायबर शाखा प्रभारी भेरुसिंह देवड़ा को उचित कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया था।

जिसके तारतम्य में सायबर टीम एवं थाना डही पुलिस टीम द्वारा मुखबिर की सूचना के आधार पर दिनांक 31.05.2024 को संदेही निक्कु उर्फ शैलेष सरगरा निवासी ग्राम कापसी हाल मुकाम सुतार मोहल्ला कुक्षी हिरासत में लेकर हिकमत-अमली से पूछतांछ की तो उसने अन्य 04 साथियो के साथ मिलकर ग्राम बडवान्या में मोटरसायकल पर सवार मुनिम के साथ लूट की घटना को अंजाम देना स्वीकार किया। टीम द्वारा आरोपी निक्कु उर्फ शैलेष के कब्जे से लूट के हिस्से में आये रुपये में से 39 हजार 900 रुपये व 01 बजाज पल्सर मोटरसायकल को विधिवत जप्त की। बाद आरोपी निक्कु उर्फ शैलेष की निशादेही से समीर खान निवासी सुसारी को ग्राम पडियाल से गिरफ्तार किया गया व पूछताछ कर लूट में मिले हिस्से में से 40 हजार 500 रुपये व 01 सीडी डान मोटर सायकल जप्त की, जिसके बाद आरोपी निक्कु उर्फ शैलेष की निशादेही से आरोपी पंकज पंवार निवासी ग्राम बरखेडा चौकी डेहरी को इंदौर के क्रिश्चियन कालेज के पास से गिरफ्तार किया गया व लूट में मिले हिस्से में से 01 लाख 22 हजार 600 रुपये व 01 होण्डा शाईन मोटर सायकल को जप्त किया गया। आरोपी गैंग का 01 बदमाश वर्तमान में फरार है, जिसकी गिरफ्तारी के प्रयास जारी है।

गिरफ्तार आरोपियो के नाम —

1 निक्कु उर्फ शैलेष सरगरा निवासी ग्राम कापसी हाल मुकाम सुतार मोहल्ला थाना कुक्षी जिला धार। 
2 समीर पिता अय्युब खान निवासी ग्राम सुसारी थाना कुक्षी जिला धार
3 पंकज पिता रमेश पंवार निवासी ग्राम बरखेडा चौकी डेहरी थाना बाग जिला धार

जप्त मश्रुका का विवरण —

क्रमांक आरोपी का नाम व जप्त मश्रुका कुल जप्त मश्रुका

1. आरोपी निक्कू से लूट के हिस्से में आये रुपये में से 39 हजार 900 रुपये व 01 बजाज पल्सर मोटरसायकल

कुल नगदी 2,03,000/- रुपये व 03 मोटर सायकल कुल मश्रुका कीमती 3,50,000/- रुपये

2. आरोपी समीर से लूट के हिस्से में आए रुपये में से 40 हजार 500 रुपये व 01 सीडी डान मोटर सायकल

3. आरोपी पंकज से लूच के हिस्से में आए रुपये में से 01 लाख 22 हजार 600 रुपये व 01 होण्डा शाईन मोटर सायकल

गिरफ्तार आरोपी में आरोपी पंकज भील पर थाना नौगांव में अपराध क्रमांक 21/24 धारा 342, 365, 366, 368, 406, 120- बी भादवि व आरोपी समीर पर थाना कुक्षी में अपराध क्रमांक 338/24 धारा 323,427, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध है।

टीम द्वारा आरोपीगणो से पृथक-पृथक पूछताछ करते आरोपियों ने थाना मनावर की सिंघाना चौकी अंतर्गत गणपुर चौकडी के पास एक मोटरसायकल चालक के साथ भी लूट की वारदात करना भी स्वीकार किया है, उक्त प्रकरण चौकी सिंघाना द्वारा अग्रिम वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।

आरोपीगण द्वारा थाना मनावर चौकी सिंघाना क्षेत्रांतर्गत कबूल की गई लूट की वारदात का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है-

1. दिनांक 22/05/2024 को फरियादी धनराज पिता सीताराम पाटीदार उम्र 55 वर्ष निवासी देवगढ ने चौकी सिंघाना में आकर रिपोर्ट किया कि वह रात करीब 8.30 बजे अपनी दुकान बंद कर एक काले बैग में नगद 70 हजार रुपये, दुकान की सिल्लक, दुकान की चाबी व दस्तावेज लेकर मोटर सायकल से अपने घर ग्राम देवगढ़ जा रहा था तभी सिरसी देवगढ़ रोड़ पर राजेन्द्रसिंह दरबार के खेत के पास 01 मोटर सायकल पर आये 02 अज्ञात व्यक्तियो द्वारा सिर में लट्ठ मारकर गिर दिया व मोटर सायकल से रुपये भरा निकाल कर भाग गये। फरियादी की रिपोर्ट से अज्ञात आरोपियो के विरूद्ध थाना मनावर में अपराध क्रमांक 473/2024 धारा 394 भादवि का पंजीबध्द कर विवेचना में लिया गया।

आरोपियो को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी कुक्षी निरीक्षक राजेश यादव, थाना प्रभारी उनि दिलीप कुमार तडेवला, चौकी प्रभारी सिंघाना उनि प्रकाश सरोदे, सउनि सुखदेव अलावे, प्रआर. 438 इन्द्रदेव परमार, प्रआर कुंदन बघेल, आर. 479 लक्ष्मण जमरा, आर. 552 संजय, आर. 152 भुवानसिंह व सायबर शाखा प्रभारी भेरूसिंह देवडा, सउनि रामसिंह गौर, प्रआर. विजय सिंह भाटी, प्रआर. राजेश सिंह चौहान, प्रआर. सर्वेश सिंह सोलंकी, आर. बलराम भंवर, आर. अनिल सिंह बिसी, आर. राहुल जायसवाल, आर. प्रशांत सिंह चौहान, आर. शुभम शर्मा, आर. भानु प्रताप सिंह, आर. अंकित रघुवंशी, आर. रोहित नरगावे, आर. तरुण सिंह बैस की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। पुलिस अधीक्षक धार ने समूची टीम को ईनाम देने की उद्घोषणा की है।

Spread the love