madhyabharatlive

Sach Ke Sath

A unique initiative, celebrated father's death anniversary by planting trees

A unique initiative, celebrated father's death anniversary by planting trees

एक अनोखी पहल, वृक्षारोपण कर पिता की पुण्यतिथि मनाई

धार। ‘एक पेड़ माँ के नाम’ अभियान का मतलब यह नहीं है कि जिनकी मां नहीं है वही लोग पेड़ लगाए, इस अभियान का मुख्य उद्देश्य है अपने परिजनों, अपने पितरों या अपने इष्ट मित्रों के नाम से एक पेड़ अवश्य लगाए ताकि उनकी स्मृति में उस पेड़ की देखभाल कर उनके नाम को जीवंत रखा जा सके। पेड़ लगाने से जहां एक और प्रकृति का संतुलन बना रहता है, वहीं भीषण गर्मी में उसकी छांव से पशु पक्षियों सहित इंसानों को भी राहत मिलती है। इसी उद्देश्य को लेकर भारत के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी ने एक पेड़ मां के नाम अभियान की शुरुआत की, जिसका उद्देश्य एकमात्र यह है कि हर एक व्यक्ति कम से कम एक पेड़ अपने परिजनों के नाम से अवश्य लगाए और उसकी देखभाल करें।

इसी उद्देश्य से धार नगर के वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी राकेश तिवारी जी ने अपने पिता स्वर्गीय श्री गंगाप्रसाद तिवारी जी की सप्तम पूण्यतिथि 7 जुलाई 2024 के अवसर पर 51 प्रकार के विभिन्न प्रजातियों के पौधों का रोपण किया। साथ ही उन्होंने इन पौधों की देखभाल का संकल्प भी लिया गया।

आपको बता दे की श्री तिवारी के पूज्य पिताजी का स्वर्गवास 7 जुलाई 2017 में हो गया था। जिनकी सातवीं पुण्य तिथि के अवसर पर यह पौधा रोपण धार नगर के माण्डव रोड स्थित निर्मति केंद्र पर वरिष्ठ पत्रकार ज्ञानेंद्र त्रिपाठी की उपस्थिति में किया गया।

भारतीय सभ्यता में पिता की पुण्यतिथि पर ब्रह्म भोज तथा गौशाला में चारा ब्राह्मणों तथा मंदिरों में दान की बनी हुई परिपाटी को पूर्ण करने के साथ ही राकेश तिवारी ने अपने पिता की पुण्यतिथि पर 1000 फलदार वृक्षों को 3 साल में गोचर भूमि तथा रिक्त भूमि पर लगाने का संकल्प लेते हुए इन्हें तीन वर्ष तक संकल्पित रहकर इनको पोषण करने की जिम्मेदारी भी ली है।

उन्होंने अपने पिता की पुण्यतिथि पर 51 पौधों को रोपण करते हुए समाज को एक नई दिशा तथा नई पहल की सुरुवात की है। 

इस अवसर पर उनके पत्रकार साथी ज्ञानेंद्र त्रिपाठी, जितेंद्र पांडे शैलेंद्र जोशी, चंद्रजीत लश्करी, विशाल यादव के साथ परिवारजन उपस्थित रहे।

Spread the love