17/06/2024

madhyabharatlive

Sach Ke Sath

Increasing incidents of theft spread anger among people

Increasing incidents of theft spread anger among people

लगातार बढ़ रही चोरी की घटनाएं लोगों में रोष व्याप्त

धार। शहरी क्षेत्र में चोरी की वारदाते लगातार बढ़ रही है। जिसको लेकर पुलिस प्रशासन की ढीली कार्रवाई का नतीजा मान रहे रहवासी लोग।

धार शहर के नौगांव क्षेत्र से लगे हुए कॉलोनियों में खासकर रामकृष्ण नगर कॉलोनी क्षेत्र में चोरी की वारदाते लगातार बढ़ रही है। जिसको लेकर कॉलोनी में रहवासी लोग पुलिस प्रशासन की ढीली कार्रवाई का नतीजा मान रहे हैं। कॉलोनी वासियों में पुलिस प्रशासन पर रोष व्याप्त है। उनका कहना है कि क्षेत्र में हर दिन चोरियां हो रही है, लेकिन पुलिस के हाथ अभी तक एक भी चोर नहीं लगा है। कॉलोनी वासियों ने एसपी से सख्त कार्रवाई किएं जाने की मांग की।

रामकृष्ण नगर निवासी विकास पांडे के द्वारा बताया गया कि लंबे समय से क्षेत्र में चोरी की घटनाएं हो रही है। हर दिन कही न कही चोरी की वारदात को अंजाम दिया जा रहा है। न लोगों के घरों के अंदर रखा सामान सुरक्षित है न बाहर। करीब एक माह में क्षेत्र कई मोटरसाइकिल भी चोरी हो चुकी है। लेकिन अभी तक पुलिस के हाथ एक भी चोर गिरोह का कोई सदस्य नहीं लगा है। केवल मात्र मामला दर्ज कर कार्रवाई बंद कर दी जाती है।

प्रभावित चोरों का पता लगाने के लिए पुलिस पास चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन हाथ केवल निराशा ही लग रही है। अगर यहीं स्थिति रही तो आने वाले समय में समस्या और अधिक गंभीर हो सकती है। लोग अब खुद को असुरक्षित मान रहे हैं। जिसको लेकर अब उन्होंने जिला पुलिस अधीक्षक से मांग की है कि क्षेत्र में बढ़ रही चोरी की घटनाओं पर अकुंश लगाने के लिए पुलिस कर्मचारियों को सख्त निर्देश जारी किएं जाएं और गिरोह का पकडऩे के लिए भी बड़ा अभियान चलाया जाए।

हाल ही में धार शहर की नौगांव थाना क्षेत्र अंतर्गत रामकृष्ण नगर कॉलोनी में एक पत्रकार की स्कूटी चोरी हुई है जिसकी पत्रकार में संबंधित थाने पर शिकायत भी दर्ज करवाई है स्कूटी का नंबर एवं फोटो इस खबर के माध्यम से वायरल किया जा रहा है।

जिस किसी भी साथी को इस स्कूटी के बारे में पता लगे कृपया संपर्क करें (गाड़ी नंबर MP 09 SS 8629) –  पत्रकार विकास पांडे सम्पर्क नम्बर- 90740 41079 एवं कमल गोस्वामी 81209 58512

संपादक- श्री कमल गिरी गोस्वामी

Spread the love

Discover more from madhyabharatlive

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading