madhyabharatlive.com

Sach Ke Sath

आत्म रक्षा प्रशिक्षण एवं साइबर क्राइम और सुरक्षित यातायात का सत्र आयोजित

धार। मध्य प्रदेश पर्यटन बोर्ड द्वारा संचालित महिलाओं के लिए सुरक्षित पर्यटन स्थल परियोजना के अंतर्गत संकुल धार के ह्र्दय स्थल शासकीय कन्या महाविद्यालय में आत्म रक्षा प्रशिक्षण एवं साइबर क्राइम और सुरक्षित यातायात का सत्र आयोजित किया गया।

आयोजित समारोह में नौगांव थाना प्रभारी सविता चौधरी ने कहा कि सभी छात्राओं को आत्मरक्षा प्रशिक्षण में भाग लेना चाहिए। इससे आप खुद की रक्षा के साथ-साथ दूसरों की भी रक्षा कर सकते हैं। साथ ही सभी को

पुलिस हेल्पलाइन नंबर 100, महिला हेल्पलाइन नंबर 1090, चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर 1098 के बारे में जागरूक किया गया।

यातायात थाना प्रभारी रोहित निकम ने कहा कि मध्य प्रदेश के 52 जिलों में सड़क दुर्घटनाओं में अपनी जान गवाने में धार जिला पहले नंबर पर है। जो की दुर्भाग्य की बात हैं। इन घटनाओं का मुख्य कारण यातायात के नियमों का पालन नहीं करना है।

साइबर क्राइम प्रभारी भेरुसिंह देवड़ा ने कहा कि अगर आप कहीं पर अपना मोबाइल रिपेयरिंग करा रहे हैं तो भी आपको सावधानी रखना चाहिए। वह आपके मोबाइल का डाटा चोरी तो नहीं कर रहा है। क्योंकि वह आपके डाटा का गलत इस्तेमाल कर सकता है। और वह डाटा पता नहीं कहां से कहां पहुंच जाएगा। फिर आपको ब्लैकमेल किया जा सकता है। किसी भी तरह की घटना घटती हो तो आप साइबर क्राइम 1930 नंबर पर शिकायत कर सकते हैं।

नोडल अधिकारी जिला पुरातत्व, पर्यटन एवं संस्कृति परिषद प्रवीण शर्मा ने कहा कि लड़कियों ने आत्म रक्षा की ट्रेनिंग ली है तब से अब तक लड़कियां बिना डरे कालेज आना जाना कर रही है। किसी भी पर्यटन स्थल पर भी घूमने जा रही है। आप सभी छात्राओं को आत्मरक्षा प्रशिक्षण के माध्यम से शारीरिक एवं मानसिक रूप से मजबूत बनाने का यह मौका मिल रहा हैं।

डा. सुशील फड़के प्राचार्य ने कहा कि मध्य प्रदेश टूरिज्म बोर्ड एवं वसुधा विकास संस्थान द्वारा पूर्व में भी छात्राओं को आत्मरक्षा प्रशिक्षण दिया गया था। इसी तरह प्रशिक्षण चलते रहना चाहिए।

डॉ.बीआर पाटिल सीनियर प्रोफेसर ने कहा कि आप सभी को अपने पर्सनल फोटो इंटरनेट मीडिया पर नहीं डालना चाहिए क्योंकि अभी आर्टिफिशियल इंटलीजेंश के एप्लीकेशन के माध्यम से फोटो का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है।

प्रधान संपादक- कमलगिरी गोस्वामी

Spread the love