madhyabharatlive.com

Sach Ke Sath

भागी हुई युति को खोजने वालों पर किया हमला, पुलिसकर्मि भी घायल

पुलिसकर्मियों को घसीट-घसीट कर पीटा, प्रधान आरक्षक और सिपाही घायल।

पुलिसकर्मियों पर लोहे के सरिए, तलवारों से वार किया गया और उन्हें जमीन पर गिराकर घसीटा गया।

बदनावर/धार। झाबुआ जिले से लापता युवती को तलाश करने के लिए धार जिले की ग्राम पंचायत मुलथान के मजरा रायनपाड़ा में पहुंचे पेटलावद थाने के दो पुलिसकर्मियों पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। प्रधान आरक्षक, सिपाही और साथ आए युवती के स्वजन घायल हो गए। पुलिसकर्मियों पर लोहे के सरिए, तलवारों से वार किया गया और उन्हें जमीन पर गिराकर घसीटा गया।

इस दौरान ग्रामीणों की भीड़ जुटी रही लेकिन किसी ने भी पुलिस कर्मियों को पिटने से नहीं बचाया। सभी घायलों को बदनावर लाकर मेडिकल करवाया गया। हमलावर रायनपाड़ा निवासी सुनील सिंगार, संदीप, सोनू, कान्हा मुनिया, वीरम कटारिया के खिलाफ विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है।

प्रधान आरक्षक साबिर मोहम्मद की ओर से दर्ज रिपोर्ट में कहा गया है कि वह आरक्षक शंकरलाल के साथ गुमशुदा एक युवती की तलाश के लिए मजरा रायनपाड़ा पहुंचे। इस दौरान एक आरोपित सुनील के खेत में बने मकान पर आरोपितों ने उन्हें घेर लिया और गाली गलौज करते हुए हथियारों से हमला बोल दिया।

मारपीट के दौरान उन्हें काफी दूर तक घसीटा भी गया। हमलावर अधिक होने से पुलिसकर्मी कुछ कर नहीं पाए। आरक्षक (सिपाही) के हाथ में फ्रेक्चर हो गया। प्रधान आरक्षक को भी चोटें आई हैं।

प्रधान आरक्षक का कहना है कि जब उनके साथ मारपीट की जा रही थी तो मौके पर मौजूद ग्रामीणों में से किसी ने भी उनको बचाने की कोशिश नहीं की। गांव के चौकीदार ने जरूर बीचबचाव किया और थाने पर फोन किया।

इस पर बदनावर से एएसआइ दिनेश सिसौदिया पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर पहुंच गए। डायल 100 को भी बुला लिया। घायलों को सिविल हास्पिटल लाया गया। रात में ही दोनों घायल पुलिसकर्मियों का मेडिकल करवाकर प्राथमिक उपचार किया गया। पुलिस आरोपितों की गिरफ्तारी में जुटी है।

यह है पूरा मामला—

झाबुआ जिले की पेटलावद तहसील के रायपुरिया क्षेत्र से एक दलित युवक आदिवासी युवती को चार दिन पहले भगा ले गया था। स्वजन ने पेटलावद थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। युवक के नंबर सर्विलांस पर लगाने के बाद दोनों की लोकेशन मुलथान और रायनपाड़ा में आई।

मंगलवार शाम सात बजे के लगभग पेटलावद थाने के प्रधान आरक्षक और आरक्षक युवती के स्वजन के साथ मुलथान पहुंचे। यहां से दो युवक शिनाख्त के लिए उन्हें पंचायत के मजरा रायनपाड़ा ले गए। लड़की जहां थी, वो घर खेत में बना था।

पुलिस के पहुंचने पर वहां कुछ युवक थे, उन्होंने बहस और गालीगलौज के बाद सभी पर हमला कर दिया। मुलथान के दोनों युवक भाग गए। जबकि पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। दरअसल, जो युवक युवती को लेकर आया था, वह आरोपितों का दोस्त था।

प्रधान संपादक- कमलगिरी गोस्वामी

Spread the love