madhyabharatlive

Sach Ke Sath

Bullets fired face to face between crazy lover and police

Bullets fired face to face between crazy lover and police

सिरफिरे आशिक और पुलिस की आमने-सामने चली गोलियां

भारी पुलिस बल रहा तैनात, ब्रह्माकुंडी को बना दिया छावनी।

सिरफिरे आशिक और पुलिस की आमने-सामने चली गोलियां। 

धार। शहर के सनसनी एवं जगन्य हत्याकांड के आरोपी को पकड़ने में धार पुलिस को मिली बड़ी सफलता। मात्र 12 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने सिरफिरे आशिक को धर दबोचा।

पुलिस के ऊपर भी की फायरिंग।

पुलिस जब आरोपित को पकड़ने के लिए अलग-अलग टीमों में रवाना हुई पुलिस टीम ने जब उसे घेरा डालकर पकड़ने का प्रयास किया तब उसने पुलिस टीम के ऊपर गोलियां चलाई, जिससे नगर पुलिस अधीक्षक धार की गाड़ी पर भी कुछ गोलियां लगी। जवाबी कार्यवाही में पुलिस ने भी उस पर गोली चलाई। उसके पैर में गोली लगी और वह घायल हो गया पुलिस ने उसे धर दबोचा।

उपचार के लिए भेजा जिला अस्पताल।

पुलिस मुठभेड़ में घायल आशिक को पुलिस ने उपचार के लिए जिला चिकित्सालय भेजा था, जहां उसका उपचार हुआ।

सिरफिरे आशिक और पुलिस की आमने-सामने चली गोलियां

दिन में पुलिस एवं प्रशासन ने जमींदोज किया मकान।

हत्या की घटना के बाद मध्यप्रदेश शासन की मंशानुरूप महिला अपराध पर नियंत्रण करने के लिए सख्त कार्रवाई के निर्देश मिलने के बाद जिला पुलिस एवं प्रशासन ने कार्यवाही करते हुए दोपहर करीब 3:00 बजे से मकान को गिराने की कार्रवाई शुरू कर दी थी। जिसमें उसके मकान से सामान निकाल कर उसके मकान को निस्तो नाबूत कर दिया गया।

भारी पुलिस बल रहा तैनात, ब्रह्माकुंडी को बना दिया छावनी। 

पुलिस प्रशासन द्वारा मकान गिराने की कार्रवाई में भारी पुलिस बल तैनात रहा। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेंद्र पाटीदार, नगर पुलिस अधीक्षक देवेंद्र दुर्वे नौगांव थाना प्रभारी भागचंद तंवर, कोतवाली थाना प्रभारी दीपक चौहान सहित पीथमपुर नगर पुलिस अधीक्षक तरुणेन्द्र सिंह एवं सादलपुर थाना प्रभारी आनंद तिवारी सहित भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात रहा।

सिरफिरे आशिक और पुलिस की आमने-सामने चली गोलियां

प्रशासन की ओर से अनुविभागीय अधिकारी राजस्व दीपाश्री गुप्ता भी तहसीलदार दिनेश उईके के साथ मोर्चा संभाले हुए थे, उक्त कार्रवाई मैं नगरपालिका का पूरा अमला लगा हुआ था।

अपराधियों को सबक सिखाने में अव्वल है एसएसपी मनोज कुमार सिंह। 

आपको बता दें कि मनोज कुमार सिंह अपराधियों को कभी बख्शते नहीं हैं। खासकर महिला अपराध पर इनका कड़ा शिकंजा होता है। अलीराजपुर में भी इन्होंने महिला अपराध पर बड़ी सफलता प्राप्त की थी। वही सीमावर्ती जिला होने के बावजूद भी अपराधीक ग्राफ को 30% से नीचे लाने में उन्होंने कड़ी मेहनत की थी। वही धार जिले में अभी कुछ ही समय में इन्होंने गुंडे बदमाशों की कांबिंग अस्त कर कई गुंडे बदमाशों को तामिल करवाया है। 

सिरफिरे आशिक और पुलिस की आमने-सामने चली गोलियां

2 साल से एक युवक कर रहा था परेशान परिजन बोले उसी ने की हत्या। 

धार शहर में बुधवार सुबह करीब 11:45 बजे शहर के बसंत विहार कॉलोनी में एक 22 वर्षीय युवती की गोली मारकर हत्या कर दी गई। गोली यूवती के सिर में लगी जिससे उसकी मौके पर ही मौत गई थी।

परिजनों के मुताबिक मृतिका पूजा अपनी दो बहनों के साथ घर से निकली थी तीनो बहने नौकरी करने जाती हैं। दो बहने पेट्रोल पंप पर नौकरी करती हैं और पूजा एक रेस्टोरेंट पर रोटी बनाने का कार्य करती थी। जिसके बाद उसने यह काम छोड़ दिया फिलहाल में वह लोगों के घर जाकर काम करने लगी थी। सुबह करीब 9:00 बजे तीनों बहनें घर से एक साथ निकली थी।

2 साल से दीपक राठौर नामक युवक परेशान कर रहा था। बताया जा रहा है कि ग्राम खूंटपला थाना राजोद तहसील सरदारपुर निवासी पूजा चौहान कुछ समय से अपनी मां और दो बहनों के साथ शहर के ब्रह्मा कुंड क्षेत्र में रह रही थी उसे 2 साल से क्षेत्र का ही दीपक परेशान कर रहा था। पूजा ने नौगांव थाने में दीपक राठौर नामक युवक के खिलाफ प्रकरण भी दर्ज करवाया था। दीपक द्वारा ही गोली मारकर उसकी हत्या करना बताया जा रहा था। जिसपर पुलिस ने कार्यवाही करते हुए दीपक को गिरफ्तार कर लिया है। 

संपादक- कमलगिरी गोस्वामी

Spread the love