madhyabharatlive

Sach Ke Sath

अवैध हथियार की तस्करी करने वाले हथियारों के साथ गिरफ्तार

सायबर ब्रांच धार एवं थाना नौगांव पुलिस को अवैध देशी कट्टे की तस्करी करने वाले 01 आरोपी को गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता मिली।

आरोपी करण वास्केल निवासी ग्राम पानवा थाना गंधवानी के कब्जे से 12 नग देशी कट्टे कीमती 60,000/- रू. जप्त।

गिरफ्तारशुदा आरोपी करण विगत 02 वर्षो से, कुख्यात सिकलीगर ईश्वर पिता प्रधान बरनाला निवासी ग्राम बारिया थाना गंधवानी के बनाए गए अवैध हथियारों की तस्करी का करता था काम।

आरोपी ईश्वर सिकलीगर पर राजस्थान राज्य के जिला जालौर, जयपुर, झुंझनु व गुजरात राज्य के अहमदाबाद में आम्र्स एक्ट के कई प्रकरण है पंजीबद्ध।

धार। जिलें में अवैध हथियार एवं देशी पिस्टल/कट्टा बनाने व बेचने वाले सक्रिय गिरोह को पकड़ने के लिए नवागत पुलिस अधीक्षक जिला धार श्री मनोज कुमार सिंह(भा.पु.से.) ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धार श्री देवेन्द्र पाटीदार के निर्देशन में धार जिलें के समस्त सीएसपी/एसडीओपी, थाना प्रभारीयों के साथ-साथ उप पुलिस अधीक्षक डीपीओ/सायबर शाखा धार सुश्री निलेष्वरी डावर व सायबर ब्रांच प्रभारी निरीक्षक दिनेश शर्मा को आवष्यक दिशा निर्देश जारी कर उचित कार्यवाही हेतु लगाया गया था।

इसी तारतम्य में आज दिनांक 08.04.2023 को सायबर ब्रांच धार को मुखबिर से सूचना मिली कि थाना गंधवानी अंतर्गत ग्राम पानवा का रहने वाला करण पिता स्व. रामा वास्केल इन दिनो ग्राम बारिया के रहने वाले ईश्वर पिता प्रधान सिकलीगर के साथ मिलकर अवैध देशी पिस्टल/कट्टे की खरीदी-बिक्री के व्यापार में संलिप्त होकर मोटी कमाई कर रहा है व करण वास्केल अवैध देशी कट्टा की बडी खेप लेकर किसी ग्राहक को देने के लिए इन्दौर-अहमदाबाद राजमार्ग स्थित सोनू रेस्टोरेंट के पास आने वाला है।

मुखबीर की सूचना महत्वपूर्ण होने से सायबर ब्रांच द्वारा सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों के साथ थाना प्रभारी नौगांव श्री भागचंद तंवर एवं उनकी टीम को तत्काल अवगत कराया।

सायबर ब्रांच टीम एवं थाना नौगांव पुलिस टीम द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए इन्दौर-अहमदाबाद राजमार्ग स्थित सोनू रेस्टोरेंट के समक्ष ओवर ब्रिज के नीचे से मुखबीर द्वारा बताये गए हुलिए का एक व्यक्ति को घेराबंदी कर हिरासत में लिया। नाम पता पूछते उसने अपना नाम करण पिता स्व. रामा वास्केल जाति भिलाला उम्र 34 साल निवासी ग्राम पानवा कालियाकुआ फलिया थाना गंधवानी जिला धार बताया।

टीम द्वारा उस व्यक्ति की तलाषी लेते उसके पास रखे बेग में 12 नग देशी कट्टे मिले, जिसका लायसेंस मांगते नही होना बताया। सबब आरोपी करण के पास मिले 12 नग देशी कट्टे की विधिवत जप्त कर आरोपी करण के विरूद्ध थाना नौगांव में आम्र्स एक्ट का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया।

पकडे गए आरोपी करण से सायबर ब्रांच धार टीम द्वारा विस्तृत पूछताछ की गई, जिसमें आरोपी करण ने बताया कि उसके गांव पानवा से 3-4 किमी की दूरी पर बारिया गांव है, जहा कई सिकलीगर समुदाय के लोग अवैध देशी कट्टा, रिवाल्वर एवं पिस्टल बनाने का काम करते है। बारिया गांव के ईश्वर पिता प्रधान बरनाला जाति सिकलीगर से मेरी अच्छी मित्रता है वह अवैध हथियार बनाने के काम में कई वर्षो से सक्रिय है। वह ग्राहको की मांग के अनुसार आग्नेय शस्त्र बनाकर राजस्थान, गुजरात व अन्य प्रदेशो में सप्लाई करता है। मैं विगत 02 वर्षो से ईश्वर से जुडकर देषी पिस्टल व कट्टे बिकवाता हू, जिसका मुझे 300/- रू. प्रति कट्टा/पिस्टल बेचने का कमिषन ईश्वर देता है। मुझे यह 12 नग कट्टे ईश्वर ने ही किसी ग्राहक को देने का बोलकर भेजा था।

सायबर टीम द्वारा ईश्वर सिकलीगर का क्रिमीनल रिकार्ड चेक किया जिसमें टीम ने पाया कि ईश्वर सिकलीगर राजस्थान राज्य के जिला जालौर, जयपुर, झुंझनु व गुजरात राज्य के अहमदाबाद जिले के विभिन्न थानों में आग्नेय शस्त्र की तस्करी में मुख्य सरगना होकर फरार चल रहा है। सायबर ब्रांच टीम द्वारा आरोपी ईश्वर सिकलीगर की गिरफ्तारी हेतु ग्राम बारिया में उसके घर दबिश दी, परंतु वह घर पर नही मिला, जिसकी शीघ्र गिरफ्तारी के प्रयास जारी है।

आरोपी करण के पास मिले देशी कट्टो को वह अपने जिस ग्राहक को देने आया था, उसकी भी तलाश पुलिस द्वारा की जा रही है, जिसके पकडे़ जाने पर ओर भी कई अवैध हथियार बनाने व रखने वाले गिरोह के मिलने की पूर्ण संभावना है। आरोपी करण वास्केल को नौगांव पुलिस द्वारा उक्त अपराध सदर में गिरफ्तार कर न्यायालय पेष किया जा रहा है।

आरोपी करण वास्केल को पकड़ने में सायबर ब्रांच धार प्रभारी निरीक्षक दिनेश शर्मा, सउनि भेरूसिंह देवड़ा, सउनि रामसिंह गौर, प्रआर. गुलसिंह अलावा, प्रआर. राजेश चौहान, आर. बलराम भंवर, आर. राहुल जायसवाल, आर. संग्रामसिंह लोधी, आर. प्रदीप भूरिया एवं थाना प्रभारी नौगांव निरीक्षक भागचंद्र तंवर व उनकी टीम का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। पुलिस अधीक्षक धार महोदय द्वारा समूची पुलिस टीम को उत्साहवर्धन हेतु नगद पुरस्कार देने की उद्घोषणा की गई है।

संपादक- कमलगिरी गोस्वामी

Spread the love