madhyabharatlive

Sach Ke Sath

Waiting for promotion including designation for a long time

Waiting for promotion including designation for a long time

लंबे समय से पदोन्नति सहित पदनाम मिलने का इंतजार

प्रमोशन का इंतजार–
अन्य विभागों में एक से अधिक बार पदोन्नति सहित पदनाम दिया, आबकारी अधिकारियों ने सौंपा ज्ञापन।

धार। लंबे समय से पदोन्नति सहित पदनाम मिलने का इंतजार कर रहे आबकारी विभाग के अधिकारियों द्वारा बुधवार को जिला आबकारी कार्यालय में सहायक आयुक्त विक्रम दीप सांगर को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन की प्रति वाणिज्यिक विभाग के मंत्री सहित प्रमुख सचिव की और प्रेषित की गई, ताकि उचित मांगों का निराकरण हो सके। इस दौरान सहायक आयुक्त सांगर ने विभागीय टीम को आश्वासन दिया कि वरिष्ठ कार्यालय तक ज्ञापन को भेजा जाएगा।

आबकारी विभाग के उनि मनोज कुमार अग्रवाल, राज कुमार शुक्ला सहित अधिकारियों ने बताया कि विभाग में पदस्थ सहायक आबकारी अधिकारी एवं उपनिरीक्षक वर्ष 2016 से ही पदोन्नति व पदनाम का इंतजार कर रहे है, परंतु आज दिनांक तक विभाग द्वारा इस संबंध में कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाया गया है। मप्र शासन के अन्य विभाग जैसे राजस्व विभाग व पुलिस विभाग में उक्त समय अवधि में एक से अधिक बार पदोन्नति एवं पदनाम दिया जा चुका है। समान दिनांक को सेवा में आए नायब तहसीलदार आज डिप्टी कलेक्टर के पदनाम को प्राप्त कर चुके है, परंतु आबकारी विभाग में पदस्थ उपनिरीक्षक, सहायक जिला आबकारी अधिकारी, आबकारी अधिकारी आज भी समान पद पर ही कार्य कर रहे है। जबकि पदनाम अथवा पदोन्नति दिये जाने से शासन पर अलग से वित्तीय भार आने की संभावना भी शून्य है, फिर भी इस और ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

विरोध स्वरुप काली पट्टी भी बांधेगे

ज्ञापन के बारे में बताया कि मार्च 2023 में ठेका प्रक्रिया प्रचलन में होने के कारण पदस्थ सभी अधिकारियों ने विभाग के प्रति समर्पण दिखाते हुए अपनी मांगों को लेकर किसी भी प्रकार का कोई व्यवधान उत्पन्न नहीं किया। अब विभाग की भी जिम्मेदारी बनती हैं, कि हमारी मांगों पर बिना विलम्ब के कार्यवाही कर शीघ्र ही पदोन्नति या पदनाम दिया जाए। उनि एकता सोनकर के अनुसार मांग का निराकरण नहीं होने पर सभी अधिकारी 6 अप्रैल को सांकेतिक रूप से विरोध स्वरूप काली पट्टी बांधेंगे। इसके बाद भी मांग नहीं मानने पर 10 अप्रैल को सामूहिक अवकाश पर रहने की रणनीति भी बनाई गई है।

ज्ञापन सौंपते समय जितेंद्र सिंह भदौरिया, विवेक त्रिपाठी, आकांक्षा गर्ग, प्रज्ञा मालवीय, रोहित मुकाती सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

संपादक- कमलगिरी गोस्वामी

Spread the love