madhyabharatlive

Sach Ke Sath

There is anger in the Jain community due to the incident of indecency and assault on the nuns

There is anger in the Jain community due to the incident of indecency and assault on the nuns

साध्वियों के साथ अभद्रता एवं मारपीट की घटना से जैन समाज मैं आक्रोश व्याप्त

सरदारपुर/धार। (जितेंद्र जैन दसई) अखिल भारतीय श्री जैन श्वेतांबर युवक महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष अनिल दसेड़ा, जावरा प्रदेश महामंत्री प्रसन्न जैन, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य राकेश नाहर दसई ने एक संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति में बताया की आए दिन जैन साधु साध्वी भगवन्तों के साथ देश प्रदेश में विहार करते समय असामाजिक तत्वों द्वारा दुर्व्यवहार मारपीट की जाती हे, साथ ही कई बार तो वाहन चालको द्वारा लापरवाही से वाहन चलाने से दुर्घटनाएं होती हे। जिसमे साधु साध्वी भगवंत असमय काल कलवित हो जाते है।

लगातार हो रही घटनाओं के बाद भी शासन प्रशासन अमानवीय घटनाओं को रोकने के लिए कोई ठोस योजना नहीं बना रहा। नाहीं अपराधीयो के खिलाफ कोई ठोस कार्यवाही नहीं करने की वजह से अमानवीय घटनाए निरंतर जारी है। जिससे संपूर्ण देश के जैन समाज में शासन प्रशासन के खिलाफ आक्रोश का वातावरण बना हुआ है। जैन साधु साध्वी भगवंत राष्ट्र हित व सर्व समाज हित में लगातार पैदल विहार कर देश के नागरिकों को सत्य अहिंसा भगवान महावीर के बताए मार्गी पर चलने का आग्रह करते हे। वही देश के विकास में जैन समाज अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। उसके बाद भी शासन प्रशासन जैन समाज के साधु साध्वी भगवन्तों की सुरक्षा व्यवस्था के प्रति गंभीर नहीं होने के कारण पुनः एक अमानवीय घटना जैन साध्वी भगवन्तों के साथ घटी। 

दिनांक 27/5/2024 सोमवार भरूच (गुजरात) से विहार कर रहे पुज्य आचार्य नीतिसुरीजी म. सा. के समुदाय की साध्वीजी मंगलवर्धनाश्रीजी म. सा. आदि ठाणा 6 भरूच से देरोल की और विहार कर रहे थे। उन्होंने देखा की एक व्यक्ति निरंतर उनके पिछे आ रहा हे। थोड़ी देर में वह व्यक्ति साध्वीजी के अत्यधिक निकट आ गया। साध्वीजी ने उसे दुर रहने का बोला फिर भी वह व्यक्ति नही माना और साध्वीजी के साथ छेड़खानी करने लग गया तभी बड़े साध्वीजी महाराज ने सभी साध्वीजी को रुकने के निर्देश दिये। इतने में उस व्यक्ति ने बड़े साध्वीजी को धक्का देकर नीचे गिरा दिया।

उसके बाद उसने अपना बेल्ट निकाला और सभी साध्वीजीयो की जोर से पिटाई करने लगा।
तभी एक ठाकोर समाज का व्यक्ति भरूच जा रहा था। उसने घटना क्रम देखा और रुककर बदमाश का प्रतिकार किया। बदमाश ने उस व्यक्ति की भी बेल्ट से पिटाई की। तभी वहां पर लोग इकट्ठे होने लग गये तो वो बदमाश वहां से भाग गया। इन ठाकोर समाज के लोगों ने उसकी खोजबीन की आखिरकार देरोल चौराहे पर वह बदमाश पकड़ा गया लोगों ने उसकी पिटाई की।

फिर पुलिस को बुलाया गया। पुलिस उसे गिरफ्तार कर भरूच ले कर आयीं। पुलिस ने साध्वीजी महाराज के बयान लिये। समाजजनों ने भरूच S.P. से मुलाक़ात कर घटनाक्रम से अवगत कराया। उन्होंने समुचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।

ठाकोर समाज के लोग समय पर पहुंच कर सहायता नही करते तो साध्वीजी के साथ बहुत बड़ी अनहोनी हो जाती ।

साध्वीजी के साथ हुई इस घटना से पुरे भारतवर्ष में जैन समाज मे आक्रोश है।

अ. भा. जेन श्वेतांबर युवक महासंघ मध्यप्रदेश इकाई ने इस घटनाक्रम पर अपना कड़ा विरोध प्रकट किया। युवक महासंघ मध्यप्रदेश राष्ट्रीय इकाई के पदाधिकारीयो के साथ समाज जनों ने अपना विरोध दर्ज कराते हुए देश के महामहिम राष्ट्रपतिजी, प्रधानमंत्रीजी, एवं समस्त राज्यो के मुख्यमंत्रीजी से पत्र लिखकर मांग की है की। अपराधी पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जावे। साथ ही समस्त राज्यो में विहार के समय साधु साध्वी भगवंतों को पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराई जावे।

Spread the love