madhyabharatlive

Sach Ke Sath

Dhar police ready to serve you

Dhar police ready to serve you

एनकाउंटर स्पेशलिस्ट पुलिस अधीक्षक ने संभाला धार जिले का पदभार

धार। (Kamalgiri Goswami महाराज) विगत 2 वर्ष पूर्व एसपी मनोज कुमार सिंह को विशिष्ट सेवा पदक मिला है। आपको बता दें कि उस वक्त मनोज कुमार सिंह भिंड पुलिस अधीक्षक के पद पर रहे जब उन्हें मेरीटोरियस मेडल (पुलिस अवार्ड) मिला।

पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने फरवरी 1994 में पुलिस उप अधीक्षक के रूप में अपने कैरियर की शुरुआत की। उन्हें उनके 29 वर्ष के शानदार कैरियर में कई मौकों पर विभिन्न संगठनों से शानदार पुलिसिंग के दौरान अनगिनत प्रशंसा पत्र व पुरस्कार मिले हैं।

उन्होंने सीएसपी एसडीओपी के रूप में 6 जिलों में काम किया था। जिसमें सतना, दंतेवाड़ा, छतरपुर, भिंड एवं छिंदवाड़ा और जबलपुर शामिल है। भिंड जिले में रहते हुए उन्होंने कई एंटी डकैती ऑपरेशन में कई कुख्यात डकैतों का एनकाउंटर भी किया था।

वर्ष 2003 में मनोज कुमार सिंह को पुलिस मेडल फॉर गैलंट्री अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के रूप में उन्होंने भिंड, गुना और सागर में कई उपलब्धियां अर्जित की। वही नीमच और मंदसौर में एसपी रहते हुए चोरी डकैती व नशीले पदार्थों के अपराधों पर सराहनीय नियंत्रण किया था। किसान आंदोलन में लॉ एंड ऑर्डर संभालने में मनोज कुमार सिंह ने जहां पूरे प्रदेश में पहचान बनाई, वहीं एसपी एटीएस रहते हुए उन्होंने कई खूंखार आतंकवादियों को पकड़ा और उन्हें सफलतापूर्वक दोषी भी ठहराया था।

साइबर मामलों के भी एक्सपर्ट हैं मनोज कुमार सिंह—

भिंड एसपी रहते हुए उन्होंने अवैध हथियारों पर लगाम लगाने के साथ-साथ साइबर मामलों में बेहतरीन कार्य करते हुए कई अपराधों को ट्रेस कर अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचाया, जिसमें कई अपराधी जिले और प्रदेश की सीमा से बाहर बैठे थे, बाहर से भी वह अपराधों को अंजाम दिया करते थे। साइबर अपराधों में बहुत ही बारीकी से छानबीन करने वाले साइबर एक्सपर्ट आईपीएस मनोज कुमार सिंह की विशेष उपलब्धि हैं।

संपादक- कमलगिरी गोस्वामी

Spread the love