madhyabharatlive

Sach Ke Sath

इलाज के नाम पर बडवे ने महिला को तलवार से किया घायल

इलाज के नाम पर बर्बरता, महिला की हालत गंभीर…

कुक्षी/धार। आदिवासी बाहुल्य जिला होने से अंधविश्वास के नाम पर जान से खिलवाड़। जिले में ऐसे कई उदाहरण देखने को मिल जाएंगे।

एक ताजा उदाहरण बीते गुरुवार की शाम का है, जब एक महिला हाथ-पैर दर्द होने तबियत बिगड़ने पर डॉक्टर के बजाय ग्रामीण बडवे यानी तांत्रिक के पास गई। बडवे (तांत्रिक) ने इलाज के नाम पर महिला को तलवार से रेस दिया। इससे महिला को गंभीर चोंट आना बताया जा है।

गंभीर रूप से घायल होने पर महिला को बड़वानी रेफर किया गया है। जहां महिला का इलाज जारी है, घटना के बाद महिला की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज किया।

पुलिस के अनुसार घटना दिनांक 23 नवंबर 2023 यानी गुरुवार शाम 6 बजे फरियादीया संगीता पति कपिल उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम बड़वान्या सिर व हाथ, पैर दर्द होने से मोहल्ले के बडवे यानी तांत्रिक अनिल पिता छप्पन के पास गई थी। आरोपी अनिल ने बोला हवा का चक्कर है, ओर मैं तुझे तंत्र-मंत्र से ठीक कर दूंगा। फरियादिया संगीता ने मना किया तो आरोपी व उसके भाई जितेन्द्र तीनों साथियों ने थप्पड़ मुक्का से मारपीट कर अपशब्द कहे।

फरियादी संगीता ने बताया कि आरोपी तांत्रिक अनिल ने मंत्र पढ़कर तलवार शरीर पर रेसने (काटने) लगा। जिससे फरियादिया को उल्टे हाथ की कलाई, उल्टे पैर के घुटने के पास, उल्टे हाथ की हथेली मे, दोनो उल्टे हाथ के कंधे पर, पीठ की चमड़ी कट गई। जिसके बाद आरोपियों ने घटना की बात किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी।

महिला के घायल होने पर गंभीर हालत में महिला को डही के अस्पताल लाया गया, जहां से बड़वानी रेफर किया गया।

डही थाना पुलिस ने पीड़ित महिला संगीता की रिपोर्ट पर आरोपी तांत्रिक अनिल पिता छप्पन, जितेंद्र पिता छप्पन एवं एक अन्य अनिल के साथी निवासी बड़वानिया जाति भिलाला तीनो साथियों के खिलाफ प्रकरण क्रमांक 248/23 में धारा- 294, 323, 324, 506 व 34 भादवि के तहत केस दर्ज किया है।

Spread the love