madhyabharatlive

Sach Ke Sath

Oplus_131072

TI को थर्ड क्लास कहने वाले को हटाया, चौबीस घंटे में मांगा जवाब

बुरहानपुर। (अभिषेक बड़जात्या) जिला अस्पताल में एमएलसी कराने पहुंचे शाहपुर के आरक्षक दीपक प्रधान से अभद्रता करने और एमएलसी करने से इनकार करने वाले डा. रघुवीर सिंह को सीएमएचओ डा. राजेश सिसोदिया ने हटा दिया है। उन्हें गुलई गांव के स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ किया गया है। साथ ही नोटिस जारी कर चौबीस घंटे में जवाब मांगा गया है। सिविल सर्जन की ओर से जारी नोटिस में कहा गया है कि डा. रघुवीर सिंह के कृत्य से अस्पताल की छवि धूमिल हुई है।

गुरुवार को इमरजेंसी कक्ष में ड्यूटी कर रहे डा. रघुवीर सिंह द्वारा आरक्षक से की गई अभद्रता का वीडियो इंटरनेट मीडिया में जम कर वायरल हुआ था। इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित भी किया गया था। इस वीडियो में डा. शाहपुर टीआई अखिलेश मिश्रा को थर्ड क्लास और सरकारी नौकरी जूते की नोक पर रखने की बात भी कहते नजर आ रहे थे। विवाद गहराने के बाद यह मामला कलेक्टर भव्या मित्तल व एसपी देवेंद्र पाटीदार तक भी पहुंचा था।

कलेक्टर ने लगाई थी फटकार —

हालांकि बाद में डा. रघुवीर सिंह ने बयान बदलते हुए कहा था कि ईद का अवकाश होने के कारण वे अकेले ही इमरजेंसी, ओपीडी और वार्डों की ड्यूटी कर रहे हैं। काम अधिक होने के कारण उन्होंने आरक्षक को कुछ देर प्रतीक्षा करने के लिए कहा था। दूसरी ओर आरक्षक दीपक ने डाक्टर पर अभद्र भाषा में बात करने और करीब तीन घंटे तक एमएलसी के लिए भटकाने का आरोप लगाया था। कलेक्टर भव्या मित्तल द्वारा फटकार लगाए जाने के बाद अस्पताल के आरएमओ भी इमरजेंसी ओपीडी में पहुंचे थे, लेकिन आते ही वे आरक्षक पर ही भड़क गए थे।

Spread the love