madhyabharatlive

Sach Ke Sath

Woman showered 500 notes in front of the police station!!

Woman showered 500 notes in front of the police station!!

पुलिस थाने के सामने महिला ने कर दी 500 के नोटों की बारिश !!

पुलिस थाने के सामने महिला ने कर दी 500 के नोटों की बारिश! एक घंटे तक चला ड्रामा, जानें वजह ??

नीमच। पुलिस थाने के सामने महिला ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए नोटों की बारिश कर दी जिससे भीड़ इकठ्ठा हो गई। इस घटना के बाद काफी देर तक सड़क पर जाम लगए रहा। इस मामले को लेकर पुलिस द्वारा अपनी सफाई में रोचक जानकारी दी गई। 

आपको बता दे की मध्य प्रदेश के नीमच में पुलिस थाने के सामने एक महिला ने नोटों की ऐसी बारिश की कि सड़क पर जाम लग गया। पुलिस ने लोगों को बड़ी मुश्किल से थाने के सामने से हटाया। फिर जब महिला की इस हरकत की वजह जानने की कोशिश की गई तो महिला ने पुलिस पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया।

नीमच के कैंट थाने के सामने एक बुजुर्ग महिला पहुंची और अचानक अपने पर्स से नोटों की गड्डी निकालने लगी। महिला ने पहले 500-500 के नोट लुटा दिए। इसके बाद फिर 100-100 के नोट की गड्डी निकालकर सड़क पर उछाल दी। 

इससे पुलिस थाने के सामने सड़क पर चारों तरफ नोट बिखर गए और भारी भीड़ इकठ्ठा हो गई। घटना के बाद वाहन चालकों की भीड़ अनियंत्रित होने लगी। राहगीर मौके पर रुक कर पूरे मामले की जानकारी लेने लगे। इसी दौरान कुछ लोग नोट उठाने की कोशिश भी करने लगे। जब मामले की जानकारी कैंट पुलिस को लगी तो पुलिस के जवान थाने के बाहर पहुंचे और लोगों को रवाना करने लगे। 

पुलिस ने दी सफाई- ‘रिश्वत मांगने की शिकायत सही नहीं’

पुलिस को वाहन चालकों को थाने के सामने से हटाने में काफी मशक्कत करना पड़ी। इस दौरान करीब एक घंटे तक हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा। इस मामले में नीमच पुलिस का कहना है कि महिला की रिश्वत मांगे जाने की शिकायत सही नहीं है। महिला ने पारिवारिक सदस्यों की शिकायत कर रखी है जिस पर कार्रवाई भी हुई है। 

महिला ने कैंट पुलिस पर लगाए आरोप

साथ ही महिला ने यह भी कहा कि शिवराज सरकार ने भ्रष्टाचार फैला रखा है। महिला ने कहा कि बहनों तुम इतनी काबिल बनो कि शिवराज के ऊपर करोड़ों रुपये फेंक सको। महिला ने आरोप लगाया कि पुलिस बिना पैसे के काम नहीं करती।

महिला ने अपने बयान में बताया कि 4 साल से उसका बेटा उसके साथ मारपीट कर रहा है। इस मामले की शिकायत कैंट थाना पुलिस से की गई लेकिन पुलिस द्वारा कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई।  महिला ने कैंट पुलिस पर भ्रष्टाचार के आरोप भी लगाए। महिला का कहना है कि ठोस कार्रवाई के लिए पुलिस रिश्वत मांग रही थी। इसी वजह से थाने के सामने नोट लुटा दिए गए।  हालांकि महिला ने किसी पुलिसकर्मी या अधिकारी के खिलाफ नामजद आरोप नहीं लगाया है। 

बीजेपी या कांग्रेस से कोई लेना-देना नहीं

शिकायतकर्ता महिला ने यह भी कहा कि उनका भारतीय जनता पार्टी या कांग्रेस से कोई लेना देना नहीं है। उनकी सुनवाई नहीं हो रही थी, इसी के चलते उनके द्वारा थाने के सामने नोट उछाल दिए गए। हालांकि, इस मामले में यह भी बताया जा रहा है कि महिला की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। महिला पहले भी कई बार ऐसी घटना कर चुकी है। 

प्रधान संपादक- कमलगिरी गोस्वामी

Spread the love

Discover more from madhyabharatlive

Subscribe to get the latest posts to your email.

Discover more from madhyabharatlive

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading