madhyabharatlive

Sach Ke Sath

Liquor is being sold openly without bar license

Liquor is being sold openly without bar license

बगैर बार लाइसेंस के खुलेआम बिक रही है शराब

आबकारी विभाग कि नाक के नीचे बिक रही अवैध तरीके से शराब। 

धार। मध्यप्रदेश के मुखिया मोहन यादव के द्वारा संपूर्ण मध्यप्रदेश में अवैध तरीके से शराब के परिवहन एवं बिक्री पर प्रतिबंध लगाने के लिए लगातार अथक प्रयास किए जा रहे है। वहीं अवैध रूप से बेची जा रही शराब एवं शराब के परिवहन पर नियंत्रण लगाने के लिए लगातार आबकारी विभाग की टीम के द्वारा छापेमारी कार्यवाही की जा रही है।

बात अगर  मध्य प्रदेश के धार जिले की बात की जाए तो यहाँ आबकारी विभाग की नाक के नीचे ही नगर सहित ग्रामीण अंचलों में अवैध तरीके से शराब खूब परोसी जा रही है। वही आबकारी विभाग ग्रामीणों से कच्ची शराब पकड़ कर ही अपनी पीठ थपथपा रही है।

शराब व्यापारी या यूं कहे कि शराब ठेकेदारों की मनमानी

आबकारी की आंखों के नीचे खुलेआम परोसी जा रही है शराब —

धार शहर के मध्य पुलिस और आबकारी की आंखों के नीचे खुलेआम परोसी जा रही है शराब। धार के सबसे व्यस्ततम चौराहे त्रिमूर्ति से लेकर टीवीएस शोरूम तक कई होटलों पर खुलेआम शराब परोसी जा रही है। इतना ही नहीं हर गली मोहल्ले व गांव-गांव के किराना दुकान पर भी शराब उपलब्ध है, सबसे बड़ी बात क्या इन होटल संचालकों को बार का लाइसेंस जारी किया गया है जी नहीं।

बिक्री मूल्य से अधिक रेट में शराब बेचने पर कार्रवाई 10 हजार का जुर्माना और एक दिन के लिए लाइसेंस निरस्त

खुलेआम उड़ा रहे हैं नियमों की धज्जियां —

धार शहर में ऐसे कई होटल संचालक हैं जो खुलेआम उड़ा रहे हैं नियमों की धज्जियां। यह लोग सुबह से लेकर देर रात्रि 12:00 से 2:00 बजे तक बे-रोकटोक शराब परोस रहे। इतना ही नहीं विश्वसनीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इनके यहां कुछ सरकारी कर्मचारी भी आते हैं। जिन्हें कुछ सुविधाएं फ्री में मुहैया करवाते हैं।

Spread the love