madhyabharatlive

Sach Ke Sath

What is the belief, why do people take a living person to the crematorium?

What is the belief, why do people take a living person to the crematorium?

आखिर क्या है मान्यता क्यों घुमाते हैं जिन्दा इंसान को शमशान में

सरदारपुर/धार।  प्रदेश में मानसून के आगमन के बाद बारिश का दौर शुरू हो गया है, लेकिन ऐसे कई क्षेत्र है जहां अब भी बारिश नही हुई है। ऐसे में स्थानीय लोग अब पुरानी परंपरा अनुसार टोटकों की मदद ले रहे है ओर इंद्रदेव को मनाने में जुट गए हैं।

धार जिले के दसई में बारिश नही होने से ग्रामीणों द्वारा शमसान में गधे पर उल्टा बिठाकर व्यक्ति को घुमाया। ग्रामीणों का मानना है कि ऐसा करने से कोई बाहरी बाधा आ रही हो तो वह दूर होकर क्षेत्र में पर्याप्त बारिश होती है।

दरअसल दसई क्षेत्र में बारिश नही होने से किसानों के साथ आमजन भी चिंतित है, ऐसे में ग्रामीणों द्वारा पुराने समय से चले आ रहे टोटको की मदद ली गई। आज रविवार को बड़ी संख्या में ग्रामीण ग्राम दसई में स्थित गंगा जलिया मुक्ति धाम पर एकत्रित हुए। जहां गांव के व्यक्ति अंतर सिंह को गधे पर उल्टा बिठाकर करीब 7 से 8 बार मुक्तिधाम पर घुमाया गया।

इस दौरान बड़ी संख्या में क्षेत्र भर से ग्रामीण मौजूद रहे। ग्रामीणो ने बताया कि उनके पूर्वजो द्वारा भी वर्षा नही होने पर ऐसा टोटका किया जाता था। उनका मानना है कि गांव के किसी व्यक्ति को गधे पर उल्टा बिठाकर घुमाने से इन्द्रदेव प्रसन्न हो जाते है तथा क्षेत्र में अच्छी बारिश होती हैं। 

दसाई से जितेंद्र जैन की रिपोर्ट। 

Spread the love