madhyabharatlive

Sach Ke Sath

घाट में हुई 1 लाख 42 हजार रुपयें की लूट का पर्दाफाश

फरियादी भोला द्वारा ही रची गई थी स्वयं के साथ 1,42,550/- रुपये लूट की झूठी कहानी।

L&T फायनेंस कंपनी धार में फरियादी भोला करता है किस्त वसूलने का काम।

पुलिस टीम द्वारा आरोपी भोला के कब्जे से 1,39,550/- रुपये किए बरामद।

धार। दिनांक 10.12.2023 को फरियादी भोला पिता भंवरलाल राजपूत निवासी चाणक्यपूरी कालोनी थाना नौगांव जिला धार ने थाना तिरला आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि वह L&T फायनेंस लिमिटेड कंपनी धार में किस्त वसूलने का काम करता है। दिनांक 09.12.2023 को फरियादी भोला अपनी ड्रिम न्यू मोटर सायकल क्रमांक MP 39 MF 5948 से तिरला ब्लाक अंतर्गत आने वाले ग्रामो के कस्टमरो से कुल 1,42,550/- रुपये की किस्त वसूल कर उन्हे बैग में रखकर मवडीपुरा होते हुए सेमलीपुरा जा रहा था। तभी दोपहर करीब 01:30 बजे खिडकिया घाट के पास दो मोटर सायकल पर 04 अज्ञात बदमाश आए और फरियादी को चाकू की नोक पर डरा धमकाकर बैग छिनकर भाग गए। फरियादी की रिपोर्ट पर से थाना तिरला में अज्ञात बदमाशो के विरूद्ध अपराध क्रमांक 415/23 धारा 392 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था।

पुलिस अधीक्षक धार श्री मनोज कुमार सिंह द्वारा थाना तिरला में घटित उक्त दिनदहाडे हुई लूट की घटना को गंभीरता से लेते हुए अज्ञात बदमाशो की पतारसी कर शीघ्र गिरफ्तारी सुनिश्चित करने हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धार डॉ. इन्द्रजीत बाकलवार व नगर पुलिस अधीक्षक धार श्री रविन्द्र वास्कले के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी तिरला निरीक्षक मगनसिंह कटारा व सायबर सेल धार प्रभारी भेरुसिंह देवड़ा के नेतृत्व में 02 टीमो का गठन किया गया।

सायबर सेल धार एवं थाना तिरला की गठित टीमो द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए तत्काल घटना स्थल खिडकिया घाट पहुचकर बारिकी से तकनीकी दृष्टिकोण से निरीक्षण किया एवं फरियादी द्वारा F.I.R. में दर्ज घटना का मिलान मौके पर किया गया, जिसमें फरियादी द्वारा घटना के संबंध में दी गई जानकारी में विरोधाभास होना पाया गया। शंका होने पर पुलिस टीम द्वारा तकनीकी व मनोवैज्ञानिक तरीके से फरियादी भोला से लगातार पूछतॉछ की तो वह टूट गया।

उसने पुलिस को बताया कि L&T फायनेंस लिमिटेड कंपनी धार में किस्त वसूलने का काम करता है। उधारी ज्यादा हो जाने व पैसो का लालच हो जाने से उसने नाटकीय रुप देकर स्वयं के साथ 1,42,550/- रुपये की लूट की बात अपनी कंपनी के मैनेजर को बताकर झूठी रिपोर्ट थाना तिरला में दर्ज कराई थी।

जबकि किस्त वसूली के पैसो में से 87,000/- रुपये अपनी उधारी में चुकाए थे एवं बाकि के रुपये अपने घर पर छुपा कर रखे है। पुलिस टीम द्वारा आरोपी भोला की निशादेही से 1,39,550/- रुपये बराबद किए गए है एवं झूठी रिपोर्ट दर्ज कराने पर आरोपी भोला को प्रकरण में धारा 182, 211, 406, 409 भादवि का ईजाफा कर आज दिनांक 16.12.2023 को गिरफ्तार किया गया है, आरोपी भोला को माननीय न्यायालय धार पेश किया जा रहा है।

बरामद मश्रुका का विवरण- कुल 1,39,550/- रुपये बरामद

आरोपी भोला द्वारा लूट की रचित झूठी रिपोर्ट का पर्दाफाश करने में नगर पुलिस अधीक्षक धार रविन्द्र वास्कले, थाना प्रभारी तिरला निरीक्षक मगनसिंह कटारा, उनि राजेन्द्र सिंह सिंगाड, सउनि मनीष भगौरे, प्रआर. महेन्द्रसिंह गेहलोद, आर. मुनसिंह व सायबर शाखा धार प्रभारी भेरुसिंह देवड़ा, सउनि रामसिंह गौर, प्रआर. सर्वेशसिंह सोलंकी की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

पुलिस अधीक्षक धार द्वारा समूची टीम को नगद पुरुस्कार से पुरुस्कृत करने की घोषणा की है।

Spread the love